Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

प्रेग्नेंसी में जरूर खाएं गोंद के लड्डू, मिलेंगे कई जबरदस्त फायदे

गोंद एक बेहद गर्म पदार्थ होता है। जो कोशिका भित्ती के सेलूलोज के टूटने से बनता है। आमतौर पर ये सूखी अवस्था में पाया जाता है। लेकिन पानी के संपर्क में आने पर ये एक चिपचिपे पदार्थ में बदल जाता है। गोंद बबूल, आम और नीम के पेड़ों से पाया जाता है। यह सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। ऐसे में आज हम आपको गोंद के लड्डू के फायदे बताने जा रहे हैं।

प्रेग्नेंसी में जरूर खाएं गोंद के लड्डू, मिलेंगे कई जबरदस्त फायदे
X

 प्रेग्नेंसी में जरूर खाएं गोंद के लड्डू, मिलेंगे कई जबरदस्त फायदे (फाइल फोटो)

गर्भावास्था और प्रसव (डिलीवरी) के बाद गोंद के लड्डू खाना महिलाओं के लिए बेहद फायदेमंद होता है। इससे शिशु का विकास बेहतर होने के साथ शिशु के जन्म के बाद होने वाली शारीरिक कमजोरी दूर करने में सहायक होता है। आपको बता दें कि गोंद एक बेहद गर्म पदार्थ होता है। जो कोशिका भित्ती के सेलूलोज के टूटने से बनता है। आमतौर पर ये सूखी अवस्था में पाया जाता है। लेकिन पानी के संपर्क में आने पर ये एक चिपचिपे पदार्थ में बदल जाता है। गोंद बबूल, आम और नीम के पेड़ों से पाया जाता है। यह सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। ऐसे में आज हम आपको गोंद के लड्डू के फायदे बताने जा रहे हैं।

ये हैं फायदे

- गर्भावास्था के दौरान और डिलीवरी के बाद महिलाओं के लिए गोंद के लड्डू खाना बेहद फायदेमंद होता है। क्योंकि इससे उनकी शारीरिक कमजोरी दूर होती है और साथ ही शरीर को इंस्टेंट ऊर्जा मिलती है।

Also Read: शिशु को खुश रखने के लिए गर्भावस्था में ये करें काम, हर महिला को पता होनी चाहिए ये बातें

- गर्भावास्था के दौरान रोजाना 1-2 गोंद के लड्डू खाने से महिलाओं का इम्यून सिस्टम मजबूत बनता है। जिससे मां के साथ शिशु का मौसमी बीमारियों से बचाव आसान हो जाता है।

- गर्भावास्था में गोंद के लड्डू खाने से महिलाओं के साथ उनके शिशु दोनों की हड्डियों मजबूत बनती हैं, क्योंकि गोंद में उच्च मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है। इसके साथ ही शिशु के विकास में सही ढंग से हो पाता है।

- अगर महिलाओं को शिशु स्तनपान कराने में दिक्कत महसूस होती है, तो ऐसे में उन्हें नियमित रुप से 1-2 गोंद के लड्डू का सेवन जरुर करना चाहिए। क्योंकि इससे स्तनों में दूध की मात्रा बढ़ाने में मदद मिलती है।



Next Story