Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

क्या आपके घुटनों से आती है हड्डी चटकने की आवाज

कई उम्रदराज लोगों के घुटनों से अकसर हड्डी चटकने की आवाज आती है। इसकी कई वजहें हो सकती हैं। ऐसे में समस्या बढ़ने से रोकने के लिए, डॉक्टर से चेकअप करवाने में देर न करें और कुछ घरेलू उपायों को भी आजमा सकते हैं।

क्या आपके घुटनों से आती है हड्डी चटकने की आवाज
X

अगर उठते-बैठते, सुबह-शाम या अचानक पार्क में घूमते हुए आपने महसूस किया हो कि आपके घुटनों से हड्डी चटकने की कटकट की आवाज आ रही है तो इसे अनसुना न करें, भले एक दो बार ध्यान न दें लेकिन जब तीसरी और चौथी बार भी बहुत जल्द आपको ऐसी आवाज सुनाई पड़े तो इसे लेकर गंभीर हो जाएं। दरअसल, यह कटकट की आवाज क्रेपिटस है, जिसका मतलब है कि जोड़ों के भीतर मौजूद द्रव में हवा के जो छोटे-छोटे बुलबुले हैं, वो अकसर फूट रहे हैं। हालांकि आमतौर पर इस कटकट की आवाज के साथ दर्द नहीं होता, लेकिन ये कटकट की आवाज हड्डियों की गंभीर समस्या की ओर इशारा कर रही होती है। जल्द से जल्द किसी आर्थोपेडिक डॉक्टर को दिखाएं और इस समस्या का इलाज कराएं।

ये हो सकती है वजह

हड्डियों से कटकट की आ रही आवाज, गठिया रोग यानी ऑस्टियोआर्थराइटिस का संकेत हो सकता है। इस आवाज का मतलब है कि हड्डियों के सिरों पर मौजूद लचीले ऊतकों की संख्या कम हो रही है। सिर्फ घुटनों के जोड़ों से ही यह आवाज नहीं आती। वास्तव में शरीर के तमाम हिस्सों से यह कटकट की आवाज आती है, जिनमें गर्दन और कंधे भी शामिल हैं। कई बार हम गर्दन घुमाते हैं तो बड़ी साफ आवाज में हमें गर्दन से कटकट की ध्वनि सुनाई पड़ती है। लेकिन आमतौर पर हम इस पर चिंतित नहीं होते, क्योंकि हमें इसका अंदाजा ही नहीं होता कि इसकी वजह कोई गंभीर समस्या हो सकती है। कुछ लोग बहुत सहजता से सवाल करते हैं कि जब दर्द नहीं होता और सूजन भी नहीं है, तो भला इससे क्या परेशानी हो सकती है? लेकिन तमाम परेशानियां एकदम से नहीं आतीं, वे आपको बार -बार आगाह करती हैं कि आप संभल जाएं। बहरहाल, सवाल ये है कि घुटनों और शरीर के तमाम दूसरे हिस्सों से आने वाली इस कटकट की आवाज को शांत करने के लिए क्या करें?

आजमाएं कुछ उपाय

जब तक किसी हड्डी रोग विशेषज्ञ को अपनी समस्या बताकर जांच नहीं करवाते या डॉक्टर के मुताबिक इलाज नहीं शुरू होता, तब तक कुछ उपाय आजमाए जा सकते हैं, जिससे हड्डियों की यह कटकट की आवाज कम हो सकती है और बंद भी हो सकती है।

-रात में आधा चम्मच मेथी के दाने भिगो दें और सुबह इन भीगे हुए मेथी के दानों को खूब चबा-चबाकर खाएं। साथ ही जिस पानी में रातभर ये दाने भीगे हों, उस पानी को भी पी लें। नियमित रूप से ऐसा करने में हड्डियों के बीच एयर बबल की समस्या खत्म हो जाएगी और इसी के साथ ही कटकट की आवाज आनी भी बंद हो जाएगी।

-दिन में या रात में सोते समय एक गिलास नियमित दूध पीएं। वास्तव में हड्डियों से कटकट की आवाज आने का एक कारण शरीर में कैल्शियम की कमी हो सकती है। दूध पीने से आवाज भी बंद हो जाएगी और दर्द भी अगर हो रहा है तो खत्म हो जाएगा।

-नियमित रूप से भुने हुए चने और गुड़ खाना भी घुटनों के दर्द और हड्डियों की आवाज में राहत देता है। भुने हुए चने में कार्बोहाइड्रेट होता है। साथ ही यह प्रोटीन, कैल्शियम, आयरन और विटामिनों का भी भंडार होता है। चने के साथ अगर गुड़ खाएं तो और भी फायदेमंद होगा क्योंकि गुड़ भी आयरन और कैल्शियम का भंडार होता है। हर दिन अगर एक बार गुड़ और भुने चने खाते हैं तो हड्डियों की कमजोरी हमेशा-हमेशा के लिए दूर हो जाएगी और कटकट की आवाज भी बंद जो जाएगी।

और पढ़ें
Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story