Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus: कोरोना से रिकवर होकर भी कई महीनों बाद इस बीमारी के कारण हो सकती है मौत : रिसर्च

कोवद के ज्यादातर मरीज हल्के लक्षण वालें हैं। जो घर में रह कर भी रिकवर हो रहे हैं। वहीं कुछ लोगों में कोरोना के लक्षण ज्यादा दिन तक रहते हैं। ऐसे लोगों को कोरोना से ठीक होने के बाद भी मौत का खतरा बना रहता है। वही एक स्टडी से पता चला है कि कोरोना के हल्के लक्षण वाले मरीजों में कुछ महीनों के बाद भी नए लक्षण देखने को मिल रहे हैं।

Coronavirus: कोरोना से रिकवर होकर भी कई महीनों बाद इस बीमारी के कारण हो सकती है मौत : रिसर्च
X

कोरोना वायरस

Coronavirus:कोरोना ने पूरे देश में तबाही मचा रखी है। हर रोज लाखों लोग तड़प तड़प के मर रहे हैं। वहीं देखा जा रहा है कि कोवद के ज्यादातर मरीज हल्के लक्षण वालें हैं। जो घर में रह कर भी रिकवर हो रहे हैं। वहीं कुछ लोगों में कोरोना के लक्षण ज्यादा दिन तक रहते हैं। ऐसे लोगों को कोरोना से ठीक होने के बाद भी मौत का खतरा बना रहता है। वही एक स्टडी से पता चला है कि कोरोना के हल्के लक्षण वाले मरीजों में कुछ महीनों के बाद भी नए लक्षण देखने को मिल रहे हैं।

रिसर्च से सामने आई ये बात

स्टडी में रिसर्चर्स ने 87,00 से ज्यादा कोरोना मरीजों और 50 लाख सामान्य मरीजों की शामिल किया। जिससे सामने आया है कि कोरोना से इंफेक्टेड न होने वालों की तुलना में कोविद -19 के मरीजों में इंफेक्शन के बाद 6 महीने तक मौत का खतरा का 59% से भी ज्यादा था। वहीं रिसर्च से सामने आया है कि 6 महीने में हर हजार में कम से कम 8 मरीजों की मौत कोरोना के लक्षणों से लंबे समय तक बीमार रहने वाले मरीजों की होती है।

और भी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है

इसके साथ ही एक्सपर्ट का कहना है कि जिन लोगों को ज्यादा दिन तक कोरोना के लक्षण रहते हैं, उन्हें सांस में तकलीफ होने के साथ और भी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है। स्टडी के मुताबिक, जो इंसान कोरोना के कारण जितना गंभीर बीमार होता है, उसे आगे चलकर सेहत से जुड़ी परेशानी होने की ज्यादा खतरा रहता है।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story