logo
Breaking

कान दर्द के कारण और उपचार

Health Tips : आज के युवाओं में कान में दर्द होना और कम सुनाई देना काफी कॉमन हो गया है। पहले जहां कान में दर्द के लिए आमतौर पर कान की सही ढंग से सफाई न करना और किसी इंफेक्शन को माना जाता था। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कान में दर्द के बहुत सारे कारण हमारी रोजमर्रा की गलत आदतें भी हो सकती हैं। अगर नहीं, तो आज हम आपको कान दर्द के कारण और उसके उपचार (Ear Pain Causes and Treatment) के बारे में बता रहे हैं।

कान दर्द के कारण और उपचार

Health Tips : आज के युवाओं में कान में दर्द होना और कम सुनाई देना काफी कॉमन हो गया है। पहले जहां कान में दर्द के लिए आमतौर पर कान की सही ढंग से सफाई न करना और किसी इंफेक्शन को माना जाता था। लेकिन क्या आप जानते हैं कि कान में दर्द के बहुत सारे कारण हमारी रोजमर्रा की गलत आदतें भी हो सकती हैं। अगर नहीं, तो आज हम आपको कान दर्द के कारण और उसके उपचार (Ear Pain Causes and Treatment) के बारे में बता रहे हैं।

कान दर्द के कारण :

1. कान की सही सफाई न करना

2. कान में इंफेक्शन होना

3. लंबे समय तक तेज आवाज में हेडफोन सुनना

4. दांत में दर्द होना या दांत में इंफेक्शन होना

5. साइनस होना

कान दर्द के उपचार :

1. सप्ताह में एक बार कानों की सफाई जरूर करें। इसके साथ कान में होने पर अलसी के तेल को गुनगुना करके कान में 1-2 बूंदे डालने से कान का दर्द दूर हो जाता है।

2. कान में इंफेक्शन होने पर डॉक्टर की सलाह लें। इसके साथ ही अदरक का रस भी कान दर्द में बेहद असरदार होता है। ऐसे में 300 मिलीलीटर सरसों के तेल में 50-50 ग्राम सोंठ, हींग और तुंबरू डालकर पका लें। फिर इस तेल को छानकर बूंद-बूंद करके कान में डालने से कान का दर्द ठीक हो जाता है।

3. हेडफोन का सीमित उपयोग करें। जैतून के पत्तों के रस को गर्म करके बूंद-बूंद करके कान में डालने से भी कान का दर्द ठीक हो जाता है।

4. दांत दर्द या दांत में इंफेक्शन होने या दांत में कैविटी, किनारे से टूटा दांत, यह सभी बैक्‍टीरियों के जरिए पल्‍प को संक्रमित कर दांतों के टूटने का कारण सकता है। ऐसे में तुरंत ही दांत का इलाज करवाएं। इसके साथ कान दर्द को दूर करने के लिए 5-5 ग्राम अर्जुन के पत्तों का रस और कैथ के पत्तों का रस लेकर गुनगुना करके कान में डालने से कान का दर्द ठीक हो जाता है।

5. साइनस संक्रमण वायरस, बैक्टीरिया या फंगस से होने वाली एक बीमारी है। साइनस में इंफेक्शन होने से कान में दर्द होने लगता है। क्‍योंकि साइनस और कान सिर के अंदर से जुड़ें होते हैं। ऐसे में समय रहते साइनस की दवा लें।

Share it
Top