Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सोंठ का सेवन कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को भी देती है मात, जानें इसके और भी कई फायदे

सूखी अदरक के पीसे हुए पाउडर को सोंठ कहते हैं। सोंठ की तासीर भी अदरक की ही तरह गर्म होती है। जिसकी वजह से उसकी बेहद ही कम मात्रा में सेवन करना सबसे फायदेमंद होता है। सौंठ का अधिक सेवन करने से सीने में जलन, डायरिया, पेट संबंधी रोग, होने की अंशका बढ़ जाती है।

सोंठ का सेवन कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को भी देती है मात, जानें इसके और भी कई फायदे
X

सोंठ की तासीर गर्म होती है इसलिए इसका सेवन गर्मियों की तुलना सर्दियों में अधिक किया जाता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि सोंठ क्या होती है ? सोंठ के फायदे क्या होते हैं ? सोंठ कब खानी और कितनी मात्रा में चाहिए ?

सोंठ क्या होती है (What Is Dry Ginger)

सूखी अदरक के पीसे हुए पाउडर को सोंठ कहते हैं। सोंठ की तासीर भी अदरक की ही तरह गर्म होती है। जिसकी वजह से उसकी बेहद ही कम मात्रा में सेवन करना सबसे फायदेमंद होता है। सौंठ का अधिक सेवन करने से सीने में जलन, डायरिया, पेट संबंधी रोग, होने की अंशका बढ़ जाती है।

ये हैं फायदे

- सोंठ का नियमित सीमित मात्रा (1-2 चुटकी) का सेवन शहद या गर्म पानी से करने पर शरीर की इम्युनिटी मजबूत होती है। जिससे शरीर मौसमी बीमारियों से लड़ने में सक्षम होता है।

- अगर आप रोजाना पेट संबंधी बीमारियों यानि गैस, अपच से परेशान रहते हैं, तो ऐसे में अदरक या सोंठ का सेवन करना लाभदायक रहेगा। क्योंकि सोंठ में फाइबर के अलावा एंटी इंफ्लेमेंटरी तत्व पाए जाते हैं।

- सोंठ का सेवन करने से सिरदर्द के अलावा माईग्रेन की वजह से होने वाले दर्द में राहत मिलती है। क्योंकि सोंठ में आयरन, फाइबर जैसे पौषक तत्व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। जिसकी वजह से शरीर का ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है और मस्तिष्क में ऑक्सीजन सही मात्रा में पहुंचती है। सोंठ को खाने में मिलाकर सेवन करने से अल्जाइमर से छुटकारा मिलता है।

- गुड हाऊसकीपिंग के मुताबिक, सूखी अदरक पर हुए शोध के अनुसार, में सोंठ में दर्द कम करने वाले औषधीय तत्व पाए जाते हैं। इसलिए सोंठ को नचुरल पेनकिलर भी कहा जाता है। सोंठ या अदरक की चाय पीने से पीरियड्स में होने वाले दर्द में आराम मिलता है।

- सोंठ का नियमित रुप से सेवन करने से पाचन तंत्र सुचारु रुप से काम करता है। जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है। सोंठ का सेवन आप खाना बनाने या, गर्म दूध के साथ भी कर सकते हैं।

Also Read: सर्दी जुकाम से छुटकारा पाने का ये है देसी इलाज, पास भी नहीं भटकेगी बीमारी

- अगर ठंड की वजह से सीने में दर्द है, तो ऐसे में सोंठ की चाय पीना और सोंठ को कपड़े में बांधकर गर्म करके सीने की सिंकाई करने से दर्द से राहत मिलती है।

- वेबमेडी के मुताबिक,सूखी अदरक का पाउडर यानि सोंठ का नियमित सेवन करने से शरीर का कोलेस्ट्रॉल लेवल और ब्लड शुगर सामान्य रहती है। जिससे दिल से जुड़ी बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

- एक शोध के मुताबिक सोंठ का गर्भावास्था में सेवन करने बेहद फायदेमंद होता है। इससे पेट के रोगों के अलावा मॉर्निग सिकनेस यानि सुबह होने वाली घबराहट से निजात मिलती है।

- अगर आप बार-बार सर्दी खांसी की दिक्कत रहती हैं, तो ऐसे में गुनगुने पानी या दूध के साथ एक चुटकी सोंठ का इस्तेमाल रोजाना करने से लाभ होता है।

- गुड हाऊसकीपिंग के मुताबिक, सोंठ का सेवन करने से कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को भी मात दी जा सकती है। सोंठ या अदरक का नियमित सेवन करने से शरीर में कैंसर कोशिकाओं, ट्यूमर और शरीर में मौजूद डीएनए में होने वाली प्रक्रिया को कम कर देती है। इसके अलावा खून के थक्के बनने से रोकती है


और पढ़ें
Next Story