Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डायबिटिक-प्रेग्नेंट महिलाएं व्रत में रखें खास ध्यान

डायबिटीज पेशेंट और गर्भवती महिलाएं व्रत करती हैं। लेकिन ऐसी महिलाओं को व्रत करते हुए कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए।

Pregnancy risk of having physical relation during menstruation or periods
X

प्रतीकात्मक तस्वीर 

डायबिटिक, प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए व्रत रखना जरूरी है तो इससे पहले अपने डॉक्टर से जरूर संपर्क करना चाहिए। अगर डॉक्टर आपको व्रत रखने की इजाजत दें तो ही आप व्रत रखें। इस दौरान आप खुद को हाइड्रेट रखें। इसके अलावा भी जो आहार सरगी में या व्रत के बाद लें, वह भी संतुलित-पौष्टिक हो, इस बात का ध्यान रखें।

पौष्टिक हो सरगी

गर्भवती महिलाओं को सरगी में हल्का, पौष्टिक भोजन खाना चाहिए। इसमें आप दूध, भीगे हुए बादाम, किशमिश, अनार, केला और सेब शामिल कर सकती हैं। अगर आप डायबिटीज की पेशेंट हैं तो सरगी में भरपूर प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट शामिल करें। इसमें आप ज्वार की रोटी, पनीर भुर्जी, दाल, दही, दूध, ओट्स और बेसन का चीला खा सकती हैं। इससे आपको लंबे समय तक भूख नहीं लगेगी। आप एनर्जेटिक भी रहेंगी।

लिक्विड लेती रहें

महिलाएं निर्जला व्रत रखती हैं यानी पूरे दिन पानी नहीं पीती हैं। लेकिन डायबिटिक, प्रेग्नेंट महिलाओं को निर्जला व्रत नहीं रखना चाहिए। इससे उनकी सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है। इसके बजाय लिक्विड लेते रहना चाहिए, इससे बॉडी हाइड्रेट रहेगी। नारियल पानी, फ्रूट जूस भी पी सकती हैं। थोड़ी-थोड़ी देर में पानी पीती रहें। इससे डिहाइड्रेशन की समस्या नहीं होगी।

लेती रहें दूध-फ्रूट्स

गर्भावस्था में बार-बार खाने की जरूरत होती है। इसलिए व्रत के समय जब भी भूख लगे तो आप फलाहार, फ्रूट सलाद खा सकती हैं। इससे आपको एसिडिटी नहीं होगी। लेकिन आप नमक का इस्तेमाल न करें। आप चाहें तो दूध भी पी सकती हैं। डायबिटिक महिलाएं उपवास के दौरान अपने शुगर लेवल को 70 एमजी से कम न होने दें। ऐसा होने पर जूस लें। आप चाहें तो फलाहार भी ले सकती हैं।

दोपहर में जरूर कुछ खाएं

व्रत के दौरान अधिकतर महिलाएं रात में चांद देखने पर ही अपना व्रत खोलती हैं। लेकिन अगर आप गर्भवती हैं तो दोपहर में कथा सुनने या पढ़ने के बाद फल, दूध, ड्राय फ्रूट्स जरूर लें। लंबे समय तक भूखी रहने पर आपको चक्कर, वॉमिटिंग जैसी हेल्थ प्रॉब्लम हो सकती हैं।

ऐसे खोलें उपवास

आपने पूरे दिन कुछ नहीं खाया है, तो किसी मीठे खाद्य के साथ उपवास तोड़ना बेहतर होगा। यह आपके ब्लड शुगर लेवल को सामान्य करेगा। मीठे में आप मीठी मठरी खा सकती हैं। आप फ्रूट जूस पी सकती हैं। खाने में सलाद खा सकती हैं। रात को हल्का, पौष्टिक खाना ही खाएं। अगर डायबिटीज की पेशेंट हैं तो ब्लड शुगर को मेंटेन रखने के लिए फाइबर से भरपूर डाइट लें। आप शुगरफ्री खीर खा सकती हैं। मूंग चीला, ओट्स से अपना व्रत खोलें।

खुद को रखें व्यस्त

व्रत के दौरान आप खुद को किसी न किसी काम में व्यस्त रखें। लेकिन भारी या थका देने वाला काम न करें, इससे आपको थकान लग सकती है। इसके अलावा आप पूरे दिन बैठी न रहें। थोड़ा चहल-कदमी करें। आराम भी करें। इससे आपका पूरा दिन आराम से बीत जाएगा।

Next Story