Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस बीमारी का पता चलते ही छोड़ दें आलू खाना, नहीं तो भविष्य में हो सकता है भारी नुकसान

आलू एक सब्जी है जिसे आप किसी बी सब्जी में मिलाकर खा सकते हैं। वहीं कुछ न होने पर आलू की भुजिया बनाकर भी खा सकते हैं। आलू जमीन के अंदर उगते हैं। साइंस में इसे सोलेनम ट्यूबरोसम कहा जाता है। पूरे साल मिलने वाली इस सब्जी में कई गुण होते हैं। जोकि सेहत के लिए बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। लेकिन कुछ बीमारियों में आलू खाने से परहेज करने के लिए कहा जाता है।

इस बीमारी का पता चलते ही छोड़ दें आलू खाना, नहीं तो भविष्य में हो सकता है भारी नुकसान
X

इस बीमारी का पता चलते ही छोड़ दें आलू खाना, नहीं तो भविष्य में हो सकता है भारी नुकसान (फाइल फोटो)

सब्जियों में ज्यादातर लोग आलू खाना पसंद करते हैं। आलू एक सब्जी है जिसे आप किसी बी सब्जी में मिलाकर खा सकते हैं। वहीं कुछ न होने पर आलू की भुजिया बनाकर भी खा सकते हैं। आलू जमीन के अंदर उगते हैं। साइंस में इसे सोलेनम ट्यूबरोसम कहा जाता है। पूरे साल मिलने वाली इस सब्जी में कई गुण होते हैं। जोकि सेहत के लिए बहुत महत्वपूर्ण होते हैं। लेकिन कुछ बीमारियों में आलू खाने से परहेज करने के लिए कहा जाता है।

डायबिटीज से जूझ रहे मरीजों को आलू नहीं खाना चाहिए। क्योंकि आलू में शुगर की मात्रा ज्यादा पाई जाती है। इस कारण ही डॉक्टर डायबिटीज के मरीजों को आलू खाने के लिए मना करते हैं। ऐसे में आलू का सेवन शुगर लेवल बढ़ाने का काम करता है। डायबिटीज का पता लगने के बाद मरीज को तुरंत आलू का सेवन बंद कर देना चाहिए।

एक्सपर्ट का कहना है कि आलू शुगर लेवल बढ़ाने का कारण बन सकता है। खासतौर पर डायबिटीज टाइप 2 मरीज को आलू खाने के लिए मना किया जाता है। वहीं रात में आलू खाना डायबिटीज मरीज के लिए नुकसानदायक होता है।

कब्ज की परेशानी वाले मरीजों को भी आलू खाने के लिए मना किया जाता है। कब्ज की परेशानी में आलू नहीं खाना चाहिए। इसके साथ ही बवासीर के मरीजों को आलू से परहेज करना चाहिए। बवासीर में आलू खाने से भविष्य में परेशानी हो सकती है।

Next Story