Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इंसान स्ट्रेस और डिप्रेशन के लक्षणों को काफी हद तक घटा सकता है : रिसर्च

चारों तरफ कोरोनावायरस के कारण निराशा फैली हुई है। ऐसे में ज्यादातर लोग डिप्रेशन (Depression)कि शिकार हो रहे हैं। इसी बीच हाल में हुई एक रिसर्च (Research) से पता लगा है कि अगर इंसान योग करे तो स्ट्रेस (Stress)और डिप्रेशन(Depression) के लक्षणों को काफी हद तक कम कर सकता है।

इंसान स्ट्रेस और डिप्रेशन के लक्षणों को काफी हद तक घटा सकता है : रिसर्च
X

कोरोना ने ज्यादातर (Coronavirus) देशों में तबाही मचा रखी है। पिछले कई महीनो से शुरू हुआ ये वायरस(Virus) खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। हालातों को देखहुए भारत समेत कई देशों ने लॉकडाउन (Lockdown)किया हुआ है। चारों तरफ कोरोनावायरस के कारण निराशा फैली हुई है। ऐसे में ज्यादातर लोग डिप्रेशन (Depression)कि शिकार हो रहे हैं। इसी बीच हाल में हुई एक रिसर्च (Research) से पता लगा है कि अगर इंसान योग करे तो स्ट्रेस (Stress)और डिप्रेशन(Depression) के लक्षणों को काफी हद तक कम कर सकता है।

योग से डिप्रेशन को घटाया जा सकता है

ऑस्ट्रेलिया के अनुसंधानकर्ताओं(Researchers) का कहना है कि इस कोरोना वायरस संकट के दौरान यदि योग (Yoga)किया जाए तो वह तनाव और डिप्रेशन के लक्षणों को काफी हद तक घटा सकता है। अनुसंधानकर्ताओं ने अपने अध्ययन में योग के सिर्फ व्यायाम वाले भाग को शामिल किया है, इसमें प्राणायाम और ध्यान शामिल नहीं हैं। उन्होंने ऐसे आसनों के आधार पर विश्लेषण किया है जिसमें व्यक्ति कम से कम 50 प्रतिशत समय शारीरिक रुप से सक्रिय हो।

Also Read:Women Health: इंडिया में हर तीसरी महिला है इस बीमारी का शिकार, कहीं आपको तो ज्यादा देर खड़े होने में नहीं होती तकलीफ

मानसिक स्वास्थ्य बेहतर होता है

यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ ऑस्ट्रेलिया और यूनिवर्सिटी ऑफ न्यू साउथ वेल्स की एक मेडिकल अनुसंधानकर्ताओं की टीम ने अपने अध्ययन में पाया कि योग करने से ऐसे लोगों का मानसिक स्वास्थ्य बेहतर होता है जो अवसाद ग्रस्त हैं, किसी घटना के कारण तनाव से गुजर रहे हैं, जिन्हें सिजोफ्रेनिया, बेचैनी, शराब की लत और बाइपोलर दिक्कतें हैं। टीम का कहना है कि व्यक्ति लगातार योग करे तो उससे व्यक्ति का मानसिक स्वास्थ्य ठीक होता है।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story