Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Curry Patta Khane Ke Fayde: बालों को बढ़ाने से लेकर कई परेशानियों का करता है दूर करी पत्ता

Kari Patta Khane Ke Fayde: आमतौर पर मीठा नीम कहा जाने वाला करी पत्ता एक ऐसा पौधा है जिसमे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो शरीर की कई समस्याओं को दूर करता है।

Curry Patta Khane Ke Fayde: बालों को बढ़ाने से लेकर कई परेशानियों का करता है दूर करी पत्ता

Kari Patta Khane Ke Fayde: करी पत्ता का इस्तेमाल खाने में किया किया जाता है। साउथ इंडियन खाना बिना करी पत्ता के अधूरा है। लेकिन शायद ही लोग इससे होने वाले फायदो के बारे में जानते हो। करी पत्ता में कैल्शियम, फॉस्फोरस, मैगनीशियम, आयरन और कॉपर जैसे कई पोषक तत्व पाए जाते हैं। जो शरीर में होने वाली कई बीमारियों को दूर ही रखता है। साथ ही कई ब्लड शुगर , आंखों की रोशनी के लिए काफी फायदेमंद होता है।

ब्लड शुगर

करी पत्ता शरीर में नेचुरल तरीके से इंसुलिन का निर्माण करता है।

कब्ज की समस्या नहीं होने देता

फाइबर युक्त होने की वजह से यह आपके पेट की सफाई के लिए बेस्ट है। आपको अगर कब्ज की समस्या रहती है तो रात सोने से पहले गुनगुने पानी के करी पत्तों का सेवन करें।

वेट लोस होता है

फाइबर यु्क्त होने की वजह से कढ़ी पत्ते का सेवन आपकी भूख काफी देर तक शांत रखता है। जिससे आपका वजन बेवजह नहीं बड़ता।

चोट में है फायदेमंद

चोट लग जाने पर पर करी पत्ते का लेप बनाकर लगाएं। इससे चोट जल्द ठीक हो जाएगी।

आंखों की रोशनी

आंखों की रोशनी तेज करने के लिए 1 कप पानी में 10 करी पत्तों को उबाल कर छान कर पिएं। आप चाहें तो इसमें 1 चम्मच शहद भी डाल कर पी सकते हैं।

बालों की लंबाई बढ़ाता है

बालों को हेल्दी और शाइनी बनाने के लिए आप मेहंदी में करी पत्ता का रस मिला कर लगाएं। इसके साथ ही पसीने के कारण ृबालों में से आने वाली बदबू भी दूर हो जाएगी।

डाइजेशन

करी पत्ते में मौजूद एंटी हाईपरग्लासेमिक होते हैं। जो आपकी पाचन शक्ति को मजबूत बनाने में मदद करता है।

डायबिटीज कंट्रोल

डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए आप सब्जी में करी पत्ता डालकर इसे रेगुलर खाएं। इसके लिए आप सुबह उठकर 3 से 4 कढ़ी पत्ते पानी के साथ खा सकते हैं।

दिल की मरीजों

दिल की मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसका सेवन करने से दिल के मरीजों का काफी राहत मिलती है। इसके लिए इसे ज्यादा से ज्यादा सब्जियों में शामिल करे

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story
Top