Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus : वीक इम्यूनिटी का कारण है खानपान, ये करें बदलाव

अगर आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी इम्यूनिटी मजबूत है तो आप संक्रमण से बचे रहेंगे। आप कुछ खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल कर आसानी से इम्यूनिटी बढ़ा सकते हैं।

Coronavirus : वीक इम्यूनिटी का कारण है खानपान, ये करें बदलाव
X
खानपान (प्रतीकात्मक फोटो)

सामान्य तौर पर बेहतर स्वास्थ्य के लिए शरीर की इम्यून पावर या रोग प्रतिरोधक क्षमता को महत्वपूर्ण माना जाता है। लेकिन वर्तमान कोरोना संकट के वक्त में हम इस शब्द को कुछ ज्यादा ही इसलिए सुन रहे हैं क्योंकि मेडिकल साइंटिस्ट और डॉक्टर लोगों को बार-बार बता रहे हैं कि अगर कोरोना से लड़ना है, उसे हराना है तो हमें अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना ही होगा।

बीमारियों से बचाए

वास्तव में सिर्फ कोरोना के मामले में ही नहीं किसी भी किस्म की शारीरिक अस्वस्थता होती ही है रोग प्रतिरोधक क्षमता में कमी के कारण। शरीर की प्रतिरोधक क्षमता हमें तमाम बीमारियों से लड़ने की ताकत देती है। यही नहीं अगर संक्रमण हो भी जाए तो संक्रमण से लड़ने में और लड़कर इसे हराने में भी इसी रोग प्रतिरोधक क्षमता की मुख्य भूमिका होती है। अगर हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता पर्याप्त है तो हमें कई छोटी-मोटी बीमारियों का पता ही नहीं चलता। क्योंकि इसकी बदौलत हमारा शरीर खुद ही इन बीमारियों से निपट लेता है। लेकिन अगर हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है तो हम अकसर बीमार पड़ते रहते हैं।

वीक इम्यूनिटी के कारण

रोग प्रतिरोधक क्षमता वास्तव में कई तरह के बैक्टीरियल संक्रमण, फंगल संक्रमण से सुरक्षा प्रदान करता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता के कमजोर होने के कई कारण हो सकते हैं। कई बार ये खान-पान की लापरवाही की वजह से होता है, कई बार नशा करने की गलत आदतों के चलते और कई बार यह जन्मजात कमजोरी की वजह से भी होता है।

ऐसे बढ़ाएं इम्यूनिटी

अब सवाल ये उठता है कि अगर इम्यून पावर कमजोर है या किसी भी वजह से हो जाए तो उसे बढ़ाने के लिए क्या उपाय किए जाने चाहिए? यहां ऐसे ही कुछ उपायों का जिक्र है जिन्हें आजमाकर आप अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकते हैं-

-ग्रीन टी और ब्लैक टी, ये दोनों ही हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूती देती हैं। लेकिन एक दिन में इनके एक से दो कप ही पीएं। इनके ज्यादा मात्रा में सेवन से नुकसान हो सकता है।

-प्रतिदिन दो-चार कली कच्चा लहसुन खाना हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर बनाने में मददगार होता है। इसमें पर्याप्त मात्रा में एलिसिन, जिंक, सल्फर, सेलेनियम और विटामिन ए और ई पाए जाते हैं।

-दही के नियमित सेवन से भी इम्यून पावर बढ़ती है। इसके साथ ही दही पाचन तंत्र को भी बेहतर रखने में मदद करता है।

-ओट्स में पर्याप्त मात्रा में फाइबर्स पाए जाते हैं। साथ ही इसमें एंटी-माइक्रोबियल गुण भी होता है। हर रोज ओट्स का सेवन करने से इम्यून सिस्टम मजबूत बनता है।

-संक्रामक रोगों से सुरक्षा के लिए विटामिन सी का सेवन करना बहुत फायदेमंद होता है। नीबू और आंवले में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को दुरुस्त रखने में मददगार होता है।

Next Story
Top