Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus: लोगों को सता रहा कोरोना वायरस का डर, बचने के लिए अस्पताल से चोरी किए 2000 मास्क

Coronavirus: लोगों में कोराना वायरस का इतना डर बैठ गया है कि लोग अस्पताल से मास्क चोरी करने पर उतारू हो गए हैं। फ्रांस के एक अस्पताल से 2000 मास्क चोरी होने का मामला सामने आया है।

Coronavirus: लोगों को सता रहा कोरोना वायरस का डर , बचने के लिए अस्पताल से चोरी किए  2000 मास्क
X
फ्रांस में 2000 मास्क हुए चोरी(फाइल फोटो)

Coronavirus : कोरोना वायरस का कहर पूरी दुनिया में देखने को मिल रहा है। जिसमें अबतक 3 हजार लोगों की मौतें हो चुकी हैं। वहीं 86 हजार से भी ज्यादा लोग इस बीमारी का शिकार हो चुके हैं। इस बीमारी का खौफ लोगों में इतना फैल चुका है आप इसका अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि लोग मास्क चोरी करने पे उतारु हो गए हैं।

यह मामला फ्रांस के दक्षिण में स्थित मार्से शहर का है जहां एक अस्पताल से तकरीबन दो हजार सर्जिकल मास्क चोरी हो गए हैं। मिली जानकारी के मुताबिक मार्से के अस्पताल के अधिकारियों का कहना है कि मास्क अस्पताल के उस डिपार्टमेंट से चोरी हुए हैं। जहां सिर्फ पेशेंट और अस्पताल के कुछ स्टाफ को ही जाने की अनुमति है। फिलहाल चोरों को पकड़ने के लिए जांच शुरू कर दी गई है। बताया जा रहा है कि फिलहाल अस्पताल में ऑपरेशन करने के लिए मास्क पर्याप्त मात्रा में मौजूद हैं। बाकी और भी मास्क मंगवाए गए हैं।

Also Read: Coronavirus: चीनी सहेली से मिलकर आई पत्नी तो पति ने बाथरूम में किया बंद

वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने चेतावनी देते हुए कहा है कि कोरोना वायरस ने निपटने में लगे स्वास्थ्यकर्मियों के पास मास्क और गॉगल्स जैसी प्रोटेक्टिव आइटम की काफी किल्लत हो रही है। वहीं डब्ल्यूएचओ ने मास्क की किल्लत को लेकर काफी चिंता जाहिर की है। वहीं यह वायरस फैलने के बाद मास्क के दामों में 6 गुना बढ़ोतरी हो गई है। जो कि एक चिंता का विषय है।

ऐसे फैल रहा है कोराना वायरस

-कोरोना संक्रमित व्यक्ति के पास आने से बीमारी लग सकती है।

-उम्र और स्वास्थ्य की वजह से भी कोरोना के संक्रमण का असर पड़ता है।

-कोरोना वायरस का संक्रमण टच स्क्रीन या बस स्टॉप पर लगे खंभे से भी फ़ैल सकता है।

-छींक और खांसी से भी फैल सकता है वायरस

कोरोना वायरस से बचने के लिए इनका खूब करें सेवन

- अलसी

- दालचीनी

- तुलसी

- अदरक

- हल्दी

अभी नहीं मिला है बीमारी का इलाज

फिलहाल अभी तक इस वायरस से बचाव के लिए अब तक कोई टीका नहीं बनाया गया है। और ना ही अभी तक इसका कोई इलाज मिला है। इससे निजात के लिए टीका या दवाई अभी तक कहीं भी नहीं आई है । ऐसे में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय का कहना है कि फिलहाल बचाव ही इसका बेहतर इलाज है।

Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story