Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coconut Ke Fayde : कई वायरसों से बचाता है कोकोनट

Coconut Ke Fayde : गर्मी के दिनों में बहुत लोग नारियल पानी पीते हैं। यह शरीर को ठंडक देने के साथ कई संक्रामक रोगों से भी हमें बचाता हैं। इसके तमाम औषधीय गुणों के बारे में जानिए।

Coconut Ke Fayde : कई वायरसों से बचाता है कोकोनट
X

Coconut Ke Fayde : नारियल या कोकोनट में ऐसी वसा होती है, जो हमारे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होती है। कैपरीक, कैपरीलिक और यूरिक फैटी एसिड जैसे तत्व इसे हमारे लिए फायदेमंद बनाते हैं। ये एंटीवायरल, एंटीबैक्टीरियल और एंटीप्रोटोजोनल का कार्य करती हैं। यह हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है। कोकोनट की वसा में मौजूद मोनो लेयूरिन, हवा में मौजूद कई वायरस से हमें बचाते हैं।

खनिज लवण: कोकोनट में बहुत सारे खनिज लवण होते हैं, जो हमारे शरीर की कार्यप्रणाली को दुरुस्त रखते हैं। मैग्नीज, कॉपर, सिलेनियम, पोटेशियम, आयरन, फास्फोरस, मैग्नीशियम और जिंक जैसे तत्व इसे खास बनाते हैं।

ब्लड प्रेशर रखे नियंत्रित: कच्चे नारियल में फाइबर होते हैं, जो हमारे ब्लड प्रेशर को कम करता है।

कब्ज से राहत दिलाए: फाइबर से भरपूर नारियल कब्ज से राहत दिलाता है। इसमें मौजूद सेचुरेटेड फैट हालांकि खराब फैट होती है लेकिन एक कप कच्चे नारियल में 24 ग्राम सेचुरेटेड फैट होती है, जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं, उन्हें इसकी कम मात्रा लेनी चाहिए। अपने शरीर और वजन के अनुसार 10 से 20 ग्राम की लिमिट रखें।

कम मात्रा में लें: इसमें मौजूद सेचुरेटेड फैट वेट लॉस प्रोग्राम को फेल कर सकते हैं। अगर आप अपना वेट मेंटेन करना चाहते हैं तो कोकोनट ऑयल का इस्तेमाल करें। अगर आप वजन कम नहीं करना चाहते तो प्रति सप्ताह एक बार 30 से 35 ग्राम कच्चा नारियल खा सकते हैं। इसे सब्जी, चटनी, पेस्ट और मीठे पकवानों में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। कच्चा नारियल सेहत के लिए ज्यादा फायदेमंद होता है। ताजे नारियल में सभी पोषक तत्व कुछ समय तक सुरक्षित रहते है। इसलिए इसे काटने के बाद जितना जल्दी हो सके कंज्यूम करें।

कोकोनट मिल्क: कोकोनट मिल्क में वसा ज्यादा होती है और इसे अगर किसी व्यंजन बनाने में इस्तेमाल किया जाता है तो इसकी वसा के विषय में ध्यान रखें। कटे हुए कोकोनट, पैक किए हुए कोकोनट, पैकेज्ड कोकोनट मिल्क का इस्तेमाल उसकी ताजगी के अनुसार करें।

और पढ़ें
Next Story