Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

दिल की बीमारी से बचाता है अमरूद, जानें क्या है इसे खाने का सही समय

अमरूद में मैग्नीशियम, पोटेशियम, विटामिन (ए,ई) मिनरल्स, बीटा कैराटीन और ट्यूमर को खत्म करने वाले लाइकोपीन नामक फाइटो न्‍यूट्र‍िएंट्स प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। अमरूद के औषधीय गुण हमारे शरीर को गंभीर रोगों से भी बचाता है।

दिल की बीमारी से बचाता है अमरूद, जानें क्या है इसे खाने का सही समय
X

दिल की बीमारी से बचाता है अमरूद, जानें क्या है इसे खाने का सही समय (फाइल फोटो)

अमरूद खाना ज्यादातर लोगों को पसंद होता है। क्या कभी आपने अमरूद के पोषक तत्वों के बारे में सोचा है। जी हां, अगर अमरूद के फायदे (Amrood Ke Fayde Guava Benefits) की बात करें तो अमरूद में मैग्नीशियम, पोटेशियम, विटामिन (ए,ई) मिनरल्स, बीटा कैराटीन और ट्यूमर को खत्म करने वाले लाइकोपीन नामक फाइटो न्‍यूट्र‍िएंट्स प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। अमरूद के औषधीय गुण हमारे शरीर को गंभीर रोगों से भी बचाता है। इसलिए आज हम आपको अमरूद खाने के फायदे बता रहे हैं, लेकिन इस स्वादिष्ट फल को खाने से पहले कुछ सावधानी बरतनी जरूरी है। अमरूद को हमेशा दिन में ही खाएं, शाम को इसका सेवन से करना हानिकारक साबित हो सकता है।

ये हैं फायदे

- बिगड़ी खानपान की आदतों की वजह से लोग अक्सर पेट संबंधी(कब्ज,दस्त)परेशानियों से ग्रस्त रहते हैं। तो ऐसे में अगर आप रोजाना खाली पेट एक अमरूद खाएं, इससे आपको कुछ ही दिनों में आराम मिल जाएगा। जबकि पेट खराब होने पर अमरूद को खाने के बाद सेवन करना फायदेमंद रहेगा।

- रोजाना अमरूद खाने से आपका मेटाबॉल्जिम मजबूत बनता है जिससे आपके शरीर का कोलेस्ट्रॉल भी नियंत्रित करने में भी मदद मिलती है। कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल रहने से दिल की बीमारी के खतरे को भी आसानी से कम किया जा सकता है।

Also Read : खाने में शामिल करेंगे ग्वार फली की सब्जी तो दूर हो जाएगी पेट से लेकर दिल और हड्डियों की ये परेशानी

- अमरूद में मैग्नीशियम और पोटेशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। जिससे हमारे दिल मजबूत बनता है और वो सुचारू रूप से काम कर पाता है। इसके अलावा रोजाना अमरूद खाने से शरीर की मांसपेशियां भी स्ट्रांग होती है। जिससे हम इनसे जुड़ी कई रोगों से आसानी से बच जाते हैं।

- अमरूद खाने से जहां मुंह से आने वाली दुर्गंध दूर करने में मदद मिलती है, तो वहीं अमरूद के पत्तों को उबालकर उसके पानी से कुल्ला करने पर मुंह में होने वाले छालों में राहत मिलती है।

Next Story