Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ओमिक्रॉन के कारण सता रहा बच्चों में संक्रमण का डर तो महामारी से बचाने के लिए अपनाएं ये टिप्स

Health Tips: दुनिया भर में फैली महामारी कोरोना (Corona) ने भारत में भी काफी तनाव के हालात पैदा कर दिए हैं। हमारे देश में दिन पर दिन ओमिक्रॉन (Omicron) के केस बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में बच्चों के माता- पिता इस नए वेरिएंट (Corona Virus New Variant) को लेकर के काफी तनाव में हैं।

ओमिक्रॉन के कारण सता रहा बच्चों में संक्रमण का डर तो महामारी से बचाने के लिए अपनाएं ये टिप्स
X

Health Tips: दुनिया भर में फैली महामारी कोरोना (Corona) ने भारत में भी काफी तनाव के हालात पैदा कर दिए हैं। हमारे देश में दिन पर दिन ओमिक्रॉन (Omicron) के केस बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में बच्चों के माता- पिता इस नए वेरिएंट Health Tips: दुनिया भर में फैली महामारी कोरोना (Corona) ने भारत में भी काफी तनाव के हालात पैदा कर दिए हैं। हमारे देश में दिन पर दिन ओमिक्रॉन (Omicron) के केस बढ़ते जा रहे हैं। ऐसे में बच्चों के माता- पिता इस नए वेरिएंट (Corona Virus New Variant) को लेकर के काफी तनाव में हैं। को लेकर के काफी तनाव में हैं। जहां देश में 15 से 18 साल तक के टीनएजर्स का वैक्सीनेशन (Covid Vaccination for Teenagers) शुरु हो गया है, वहीं इससे कम उम्र वाले बच्चों के पेरेंट्स (Parents) काफी चिंतित हैं।

ऐसे करें बचाव

15 से कम उम्र वाले बच्चों के लिए हमारे देश में अभी कोई वैक्सीन नहीं उपलब्ध है, ऐसे में इस उम्र के बच्चों के पेरेंट्स को थोड़ा ज्यादा सतर्क होनें की आवश्यकता है। इस बारे में सीनियर फिजिशियन डॉ. शशांक शर्मा कहते हैं कि सार्वजनिक जगहों पर आपका व्यवहार यह तय करता है कि आप संक्रमण का कितना जोखिम अपने बच्चों के पास लेकर के जा रहे हैं। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क, दूरी और हाथों की स्वच्छता के नियम याद रखें। घर लौटने के बाद बिना हाथों को धोए बच्चों के करीब ना जाएं। अगर आपकी तबीयत ठीक नहीं है तो बच्चों से एक उचित दूरी बनाकर रखें और घर पर भी मास्क लगाएं।

बाहर जाने पर अपनाएं ये टिप्स

इसके अलावा आपको जब भी बाहर जाना हो तो बच्चों को सर्जिकल मास्क जरूर पहनाकर लेकर के जाएं। अगर संभव हो तो उन्हें डबल लेयर मास्क पहनने के लिए कहें। इस समय जब कोरोना लगातर बढ़ रहा है ऐसे में उन्हें पार्क, बाजार या दूसरी भीड़- भाड़ वाली जगहों पर जाने से मना करें। घर में भी उन्हें समय-समय पर हाथ धोते रहने के लिए कहें। अगर आपके बच्चे को जुकाम-खांसी है तो उसे घर के दूसरे लोगों से अलग कमरे में आइसोलेट करें। अगर बच्चे में ओमिक्रॉन के हल्के लक्षण भी दिख रहे हैं तो बिना देर किए तुरंत उसका कोरोना टेस्ट करवाएं।

Next Story