logo
Breaking

अमरूद खाने से दूर हो जाती है ये जानलेवा बीमारी

अगर आपके बच्चों के पेट में कीड़े पड़ गए हैं तो अमरूद का सेवन करना उनके लिए फायदेमंद होगा।

अमरूद खाने से दूर हो जाती है ये जानलेवा बीमारी
नई दिल्ली. ऊपर से हल्के हरे रंग का दिखने वाला अमरूद अंदर से स्वाद में मीठा होता है। यह सर्दियों में सबसे ज्यादा खाया जाने वाला फल है। इस मौसम में अमरूद बेहद आसानी से मिल जाता है। अक्सर घरों में इसका पेड़ भी देखने को मिलता है।

लेकिन बेहद सामान्य फल होने के कारण लोग घर में इसका पेड़ तो लगवा लेते हैं लेकिन ये पता नहीं होता कि ये स्वास्थ्य के लिहाज से कितना फायदेमंद है। अमरूद को यदि बीमारी दूर करने के लिए रामबाण इलाज कहें तो गलत नहीं होगा, आइए जानते हैं कैसे -

दरअसल अमरूद की तासीर ठंडी होती है। ये पेट की बहुत सी बीमारियों को दूर करने में सहायक है। इतना ही नहीं, अमरूद के सेवन से कब्ज की समस्या दूर हो जाती है। इसके बीजों का सेवन भी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होता है। अमरूद में विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा होती है जिससे अनेक बीमारियों में फायदा होता है। अमरूद को काले नमक के साथ खाने से पाचन संबंधी समस्या दूर हो जाती है। पाचन क्रिया के लिए ये बेहतरीन फल है।

अगर आपके बच्चों के पेट में कीड़े पड़ गए हैं तो अमरूद का सेवन करना उनके लिए फायदेमंद होगा। अगर आपको कब्ज की समस्या है तो सुबह खाली पेट पका हुआ अमरूद खाना फायदेमंद रहता है। अगर आपके मुंह से दुर्गंध आती है तो अमरूद की कोमल पत्त‍ियों को चबाना आपके लिए फायदेमंद रहेगा। इसके अलावा इसे चबाने से दांतों का दर्द भी कम हो जाता है।

नमक के साथ पके अमरूद खाने से पेट दर्द में आराम मिलता है। अमरूद की पत्त‍ियों को पीसकर उसका पेस्ट बनाकर आंखों के नीचे लगाने से काले घेरे और सूजन कम हो जाती है। इसकी पत्तियों को बारीक पीसकर काले नमक के साथ चाटने से लाभ होता है।

सुबह खाली पेट 200-300 ग्राम अमरूद नियमित रूप से सेवन करने से बवासीर में लाभ मिलता है। अमरूद के पत्तों को पानी में उबाल कर कुल्ला करने से दांत दर्द में आराम मिलता है। इसे जल में फिटकरी घोलकर कुल्ले करने से दांतों की पीड़ा (दर्द) नष्ट हो जाती है।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Share it
Top