Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रात में पूरी नींद लेने से तेज होती है याद्दाश्त, कम सोने वालों को होती है ये बीमारी

ज्यादातर लोग ऐसे जो रात में देर से सोते हैं और सुबह काम के चक्कर में जल्दी उठ जाते हैं। इसकी वजह से वह रात को भरपूर नींद नहीं ले पाते हैं। रात में अधूरी नींद कई बीमारियों को दावत देता है। ऐसे में रात में भरपूर नींद सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है।

रात में पूरी नींद लेने से तेज होती है याद्दाश्त, कम सोने वालों को होती है ये बीमारी

ज्यादातर लोग ऐसे जो रात में देर से सोते हैं और सुबह काम के चक्कर में जल्दी उठ जाते हैं। इसकी वजह से वह रात को भरपूर नींद नहीं ले पाते हैं। रात में अधूरी नींद कई बीमारियों को दावत देता है। ऐसे में रात में भरपूर नींद सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है। इतना ही नहीं न्यूरोसाइंटिस्ट के मुताबिक रात में पूरी नींद याद्दाश्त बढ़ाने में कारगर होता है।

रात में पूरी नींद करने से दिमाग में दिनभर इकट्ठा हुई चीजों को क्लीयर करता है और उसके बाद चीजों को याद रखने में मदद करता है।

यह भी पढ़ें: प्रेग्नेंसी-पीरियड्स जैसी समस्यओं से जुड़े हर सवाल का जवाब जानें यहां

अगर रात में नींद पूरी नहीं होगी तो यह प्रक्रिया भी अधूरी रह जाएगी।

यही वजह है कि रात में पूरी नींद लेने से याददाश्त तेज होती है। नींद पूरी न होने की वजह से अलजाइमर जैसी समस्या होने के चांसेस बढ़ जाते हैं।

उम्र बढ़ने के साथ कम आती है नींद

हिन्दुस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया की तरफ से एक रिसर्च की गई। रिसर्च के दौरान ये बताया कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ गहरी नींद आना कम हो जाती है।

इसका सीधा संबंध याद्दाश्त में कमी आने से लगा सकते हैं। वहीं अलजाइमर के मरीजों की नींद बार-बार टूटती रहती है। इतना ही नहीं अलजाइमर होने से व्यक्ति की याद्दाश्त पर सीधा असर पड़ता है।

यह भी पढ़ें: गर्भावस्था में ऐसे करें हरियाली तीज का व्रत, पूरी होगी सारी मनोकामना

रिसर्च के नतीजे

रिसर्च के प्रमुख शोधकर्ता डॉ. विलियम जेगस्‍ट ने बताया कि ये रिसर्च चूहों पर की गई। रिसर्च के दौरान देखा गया कि गहरी नींद न होने के कारण दिमाग से सभी चीजें साफ नहीं हो पाती हैं और याद्दाश्त पर असर पड़ता है।

Next Story
Top