Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शादी के बाद इस वजह से बदल जाते हैं इंसान, होते हैं ये कमाल के फायदे

जिंदगी में बदलाव आना स्वाभाविक है। जीवन में हो रहे बदलाव की वजह से ही सही मायनों में हमारा विकास होता है, सोचने-समझने का नजरिया बेहतर होता है।

शादी के बाद इस वजह से बदल जाते हैं इंसान, होते हैं ये कमाल के फायदे
X

जिंदगी में बदलाव आना स्वाभाविक है। जीवन में हो रहे बदलाव की वजह से ही सही मायनों में हमारा विकास होता है, सोचने-समझने का नजरिया बेहतर होता है। इसलिए बदलावों से घबराने के बजाय उन्हें स्वीकारने के लिए तैयार रहना चाहिए।

अमेरिकी राइटर-जर्नलिस्ट और लेक्चरर गेल शीही कहती हैं, ‘अगर हम बदलते नहीं हैं, तो हम बढ़ते नहीं हैं। अगर हम बढ़ते नहीं हैं, तो वास्तव में हम जीते नहीं हैं।’

इसका मतलब साफ है कि अगर हमें अपनी जिंदगी खुश होकर जीनी है, खुद को बेहतर बनाना है, तो हमें जीवन में होने वाले बदलाव के लिए तैयार रहना चाहिए। साथ ही उसे सहजता से अपनाना भी चाहिए।

आते हैं ये बदलाव

दरअसल, बदलाव ही हमारे जीवन को सकारात्मक दिशा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। ये हमें बेहतर इंसान बनाते हैं, चुनौतियों से लड़ने की ताकत देते हैं। लेकिन कई महिलाएं बदलाव से बचने की कोशिश करती हैं, क्योंकि वे कंफर्ट जोन से बाहर नहीं आना चाहती हैं। जबकि कंफर्ट जोन का मतलब है ठहराव। लेकिन जीवन में होने वाले बदलाव को लेकर सहजता और उसे अपनाने को तैयार रहने से कई लाभ होते हैं।

बनते हैं सहज

जिंदगी में बदलाव आना स्वाभाविक है। इन्हें स्वीकारने से हममें फ्लेग्जिबिलिटी यानी स्थितियों के अनुसार खुद में बदलाव करने की काबिलियत आती है। इस क्षमता से आप हर तरह की स्थिति में सामंजस्य बैठा सकती हैं, बदलावों के प्रति सहज रहना सीखती हैं। व्यवहार विशेषज्ञों के अनुसार जो महिलाएं परिस्थिति के अनुसार खुद को बदल लेती हैं, वे समस्याओं को ज्यादा व्यावहारिक होकर समाधान खोजती हैं।

यह भी पढ़ें: शादी के बाद शारीरिक संबंध के कारण नहीं, इन 3 वजहों से बढ़ता है वजन!

बढ़ती है क्षमता

जरूरी नहीं है कि जिंदगी में हो रहे बदलाव हमेशा सकारात्मक ही हों। ये नकारात्मक भी हो सकते हैं। वास्तव में जिंदगी में कई बार ऐसे मोड़ आते हैं, जब हम हारा हुआ महसूस करने लगते हैं। निराशा और हताशा हमें घेर लेती है। ऐसे में जब हम अपनी समस्या से पार पाने की कोशिश करते हैं तो अपनी क्षमताओं का भरपूर इस्तेमाल करते हैं। इस तरह नकारात्मक बदलाव हमारी क्षमता को बढ़ाने में मददगार होते हैं।

नए अवसर मिलते हैं

अगर आप सकारात्मक दृष्टिकोण रखती हैं, तो सहज ही जान जाएंगी कि हर बदलाव अपने साथ नए-नए अवसर लेकर आता है। यह आपकी सूझ-बूझ पर निर्भर करता है कि उन मौकों को आप समझ पाती हैं या नहीं। जो महिलाएं बदलावों से घबराती हैं, उन्हें नए मौके कभी नजर नहीं आते। जबकि सकारात्मक दृष्टिकोण रखने वाली महिलाओं के साथ ऐसा नहीं होता है। वे मुश्किल घड़ी से भी अपने लिए नए अवसर निकाल लेती हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story