logo
Breaking

गर्भपात के कारण : भूलकर भी प्रेग्नेंसी में न करें इन 5 चीजों का सेवन

आमतौर पर प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को घी, बटर, फलों और सब्जियों वाली पौषक तत्वों से भरपूर डाइट लेने को कहा जाता है। लेकिन कई बार महिलाएं जाने-अनजाने में या जानकारी के अभाव या खाने-पीने की आदतों में बरती गई लापरवाही गर्भपात यानि मिस्कैरिज का कारण बन जाती हैं। यही नहीं, डॉक्टर्स के मुताबिक प्रेग्नेंसी के दौरान ज्यादा सॉफ्ट चीजें खानाखासकर जिसमें लिस्टारिया नामक बैक्टीरिया भी गर्भपात की वजह बन सकता है। एक शोध के मुताबिक, लिस्टेरिया नामक बैक्टीरिया कई फूड्स में मौजूद होता है, जो होने वाले बच्चे के लिए खतरनाक होता है। इसलिए वो फूड्स जिनमें यह बैक्टीरिया मौजूद होता है, उसका सेवन करने से प्रेग्नेंट वुमन को बचना चाहिए।

गर्भपात के कारण : भूलकर भी प्रेग्नेंसी में न करें इन 5 चीजों का सेवन

आमतौर पर प्रेग्नेंसी (Pregnancy) के दौरान महिलाओं को घी, बटर, फलों और सब्जियों वाली पौषक तत्वों से भरपूर डाइट (Diet) लेने को कहा जाता है। लेकिन कई बार महिलाएं जाने-अनजाने में या जानकारी के अभाव या खाने-पीने की आदतों में बरती गई लापरवाही गर्भपात यानि मिसकैरेज का कारण बन जाती हैं। यही नहीं, डॉक्टर्स के मुताबिक प्रेग्नेंसी के दौरान ज्यादा सॉफ्ट चीजें खाना खासकर जिसमें लिस्टारिया नामक बैक्टीरिया भी गर्भपात की वजह बन सकता है। एक शोध के मुताबिक, लिस्टेरिया नामक बैक्टीरिया कई फूड्स में मौजूद होता है, जो होने वाले बच्चे के लिए खतरनाक होता है। इसलिए वो फूड्स जिनमें यह बैक्टीरिया मौजूद होता है, उसका सेवन करने से प्रेग्नेंट वुमन को बचना चाहिए। इसलिए ऐसे में आज हम आपको प्रेग्नेंसी (Pregnancy) के दौरान किन चीजों को खाने से बचना चाहिए, उसके बारे में बता रहे हैं। जिससे आप वक्त रहते ही गर्भपात यानि मिस्कैरिज (Aboration) से बच सकेंगी।

प्रेग्नेंसी के दौरान इन 5 चीजों के सेवन करने से बचें ...

प्रेग्नेंसी में इन चीजों से रहें दूर - 1

तुलसी एक औषधीय पौधा होता है। आमतौर पर लोग तुलसी के काढ़े का सर्दी-जुकाम, बुखार और गले की खराश में आराम पाने की लिए करते हैं। लेकिन
तुलसी की पत्तियों में पारा यानि मरकरी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, जो अजन्मे बच्चे की सेहत के लिए बेहद घातक साबित होता है।

2. प्रेग्नेंसी में इन चीजों से रहें दूर - 2

आज के दौर में पुरूष हो या महिलाएं सभी को चाइनीज फूड और फास्ट फूड बेहद पसंद होता है। लेकिन प्रेग्नेंसी के दौरान चाइनीज़ फूड (जंक फूड) का
ज्यादा सेवन करना गर्भपात का कारण बन सकता है। क्योंकि चाइनीज़ फूड में एमएसजी यानी मोनो सोडियम ग्लूमेटा पाया जाता है। जो अजन्मे बच्चे के विकास के लिए बेहद घातक साबित होता है। इसके साथ ही सोया सॉस में नमक की अत्याधिक मात्रा भी प्रेंग्नेंट महिलाओं को हाई ब्लड प्रेशर का पेशेंट
बना देती है।

3. प्रेग्नेंसी में इन चीजों से रहें दूर - 3

एलोवेरा को भी सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। लेकिन प्रेग्नेंसी के दौरान एलोवेरा या एलोवेरा जूस का सेवन करना बेहद खतरनाक हो सकता
है। क्योंकि इसके लगातार सेवन करने से शरीर का ब्लड शुगर लेवल कम हो जाता है। जिससे प्रेग्नेंट महिला को उल्टी, पेट के खराब होने की समस्या का
सामना करना पड़ता सकता है। यहीं नहीं, बच्चे को स्तनपान कराने वाली महिला के भी लगातार एलोवेरा का सेवन करने से शरीर से सारे मिनरल्स निकल जाते हैं और यह होने वाले बच्चे के लिए खतरा बन सकता है।

4. प्रेग्नेंसी में इन चीजों से रहें दूर - 4

प्रेग्नेंसी में नमक की ज्यादा मात्रा भी बेहद नुकसानदायक होती है। क्योंकि इससे हाई ब्लड प्रेशर की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। जिससे अजन्में बच्चे
की दिल की धड़कन पर बुरा असर पड़ता है और गर्भपात यानि मिस्कैरिज की अशंका रहती है।

5. प्रेग्नेंसी में इन चीजों से रहें दूर - 5

प्रेंग्नेंसी के दौरान एक सीमित मात्रा से ज्यादा चाय और कॉफी का सेवन करना भी गर्भपात की एक वजह बन सकता है। क्योंकि ज्यादा चाय-कॉफी पीने से गैस और बदहजमी की समस्या बनने लगती है। जिसका असर बच्चे पर पड़ता है।

प्रेग्नेंसी में इन लिस्टेरिया बैक्टीरिया वाले फूड्स से रहें दूर :

सॉफ्ट चीज़
स्प्राउट्स
तरबूज
अनपैस्चराइज़्ड मिल्क
Share it
Top