Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गणेश चतुर्थी 2018 : फैट फ्री स्टीम मोदक रेसिपी से,गणेश उत्सव को बनाएं हेल्दी और स्पेशल

आज के दौर में जब हर कोई अपनी फिटनेस को बनाएं रखने के लिए रोज अलग-अलग डाईट प्लान और फिटनेस फंडे अपनाते हैं, लेकिन त्योहारों के सीजन में सभी अपनी फिटनेस को भूल जाते हैं।

गणेश चतुर्थी 2018 : फैट फ्री स्टीम मोदक रेसिपी से,गणेश उत्सव को बनाएं हेल्दी और स्पेशल

आज के दौर में जब हर कोई अपनी फिटनेस को बनाएं रखने के लिए रोज अलग-अलग डाईट प्लान और फिटनेस फंडे अपनाते हैं, लेकिन त्योहारों के सीजन में सभी अपनी फिटनेस को भूल जाते हैं।

ऐसे में आज हम आपको फैट फ्री स्टीम मोदक रेसिपी बता रहे हैं। जिससे इस गणेश उत्सव पर आप पहले की ही तरह फिट और हेल्दी रह सकें।

स्टीम मोदक रेसिपी की सामग्री :

चावल का आटा 1 1/2 कप

एक चुटकी नमक

ग्रीस के लिए तेल -1 चम्मच

फीलिंग के लिए

ताजा नारियल -1 1/2 कप (कसा हुआ)

गुड़ - 1 कप (कसा हुआ)

खसखस के भूने हुए बीज - 1 बड़ा चम्मच

हरी इलायची पाउडर - एक चुटकी

जायफल पाउडर- एक चुटकी

स्टीम मोदक रेसिपी की विधि :

1.एक गहरे पैन में नमक और एक चम्मच तेल के साथ एक चौथाई कप पानी गर्म करें।

2.एक बर्तन में चावल के आटे में पानी मिलाएं, जिससे घोल में गांठें न बनें। अब पैन को एक गहरे ढक्कन से ढक दें और ढक्कन में कुछ पानी डालकर धीमा आंच पर तीन मिनट के लिए पकाएं।

3.इसके बाद ढक्कन को खोलें और चावल के आटे पर थोड़ा सा ठंडा पानी छिड़कें और ढक्कन को एक बार फिर से ढक दें, और पूरी प्रक्रिया को दोहराएं।

4. अब मिश्रण को एक बड़ी प्लेट में निकालें, और अपने हाथों पर तेल लगाते हुए एक चिकना आटा गूंद लें। आटा आपके हथेलियों से चिपकना नहीं चाहिए। इसके बाद एकगीले कपड़े से आटे को कवर करके अलग रख दें।

5. अब एक नॉन-स्टिक पैन में नारियल और गुड़ को मिलाकर हल्के सुनहरा होने तक भूनें। इसमें खसखस पाउडर, इलायची पाउडर और जायफल पाउडर को मिलाएं।

6. अब तैयार आटे को बारह टुकड़ों में बांटे और एक-एक कर गोल शेप देते हुए बीच में फीलिंग भरें ऊपर से सील कर बंद करें।

7. बचे हुए मिश्रण के साथ भी इस प्रक्रिया को दोहराएं ।

8. अब स्टीमर में पानी गर्म करें।

9. पानी गर्म होने के बाद स्टीमर में एक-एक करके अपने मोदकों को रखें और 10-12 मिनट के लिए स्टीम दें।

10. अब तैयार मोदकों को प्लेट में निकालें और शुद्ध घी के साथ गर्मागर्म बप्पा को भोग लगाएं।

Next Story
Top