Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

क्या आप जानते हैं फल खाने से बढ़ता है वजन, जानें इसके पीछे का कारण

कोई भी फल हद से ज्यादा खाने पर आपको मोटा कर सकता है।

क्या आप जानते हैं फल खाने से बढ़ता है वजन, जानें इसके पीछे का कारण
नई दिल्ली. हेल्दी फूड खाने से स्वास्थ्य हमेशा ठीक रहता है। कहा जाता है रोजमर्रा की जिंदगी में ज्यादा से ज्यादा फल खाने चाहिए। खासकर के लड़कियां अपनी डाइट को लेकर काफी सर्तक रहती हैं। थोड़ा सा वजन बढ़ने से जल्द परेशान हो जाती हैं।
दैनिक भास्कर की खबर फूड से संबंधित ऐसे कई मिथ हैं कुछ लोगों को लगता है कि ज्यादा फल खाने से वजन नहीं बढ़ता और ज्यादा नट्स खाने से वजन बढ़ता है, जबकि सच्चाई कुछ और ही है। हम बता रहे हैं ऐसे ही 7 मिथ और फैक्ट्स...

1. मिथ :ज्यादा फल खाने से भी वजन नहीं बढ़ता।
सच्चाई : कोई भी फल हद से ज्यादा खाने पर आपको मोटा कर सकता है। फलों में काफी अधिक फ्रक्टोज होता है जिससे बॉडी को एनर्जी तो मिलती है लेकिन फैट कम नहीं होता। इसे बर्न करने के लिए एक्सरसाइज करना जरूरी है। अगर एक्सरसाइज किए बगैर आप फल खाते रहेंगे तो मोटापा बढ़ सकता है।
2.मिथ :लो फैट फूड में कैलोरी नहीं होती।
सच्चाई :अधिकांश लोगों को लगता है कि लो फैट फूड में कैलोरी नहीं होती। इसलिए हेल्थ कॉन्शियस लोग इस तरह का खाना ज्यादा खाते हैं। जबकि लो फैट फूड में फ्लेवर और टेक्सचर को इंप्रूव करने के लिए ज्यादा मात्रा में नमक, स्टार्च, शक्कर और आटा मिलाया जाता है। इससे वजन बढ़ने की संभावना अधिक रहती है।
3.मिथ :नट्स रोज नहीं खाना चाहिए। इससे वजन बढ़ता है।
सच्चाई :सीमित मात्रा में रोज नट्स (पिस्ता, बादाम, अखरोट आदि) खाने से वजन नहीं बढ़ता। नट्स प्रोटीन और फाइबर का अच्छा सोर्स होता है। इसमें सैचुरेटेड फैट की मात्रा कम होती है और कोलेस्ट्रॉल नहीं होता।
4. मिथ : दूध एक कंप्लीट फूड है। जो लोग ज्यादा दूध पीते हैं, उन्हें खाना खाने की जरूरत नहीं होती।
सच्चाई : दूध में कैल्शियम, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट होता है। लेकिन इसमें आयरन और विटामिन नहीं होता। अगर दूध को कंप्लीट फूड मानकर सिर्फ दूध पिएंगे और खाना नहीं खाएंगे तो बॉडी में कई सप्लीमेंटस की कमी हो जाएगी।
5. मिथ :कच्चे फल और सब्जियों में न्यूट्रीशन की मात्रा पके हुए फल और सब्जियों से ज्यादा होती है।
सच्चाई :यह सच है कि कुछ फल और सब्जियों को कच्चा खाना फायदेमंद है। लेकिन कच्चे फूड में मौजूद बैक्टीरिया पकाए जाने पर ही खत्म होते हैं। पके हुए खाने से न्यूट्रीशंस बॉडी में आसानी से एब्जॉर्ब हो जाते हैं।
आगे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारियां-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top