Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Bakrid Special Recipe : ऐसे बनाएं लजीज मटन शामी, जो भी खाएगा वही कहेगा वाह! क्या स्वाद है

ईद का उल अजहा यानी बकरीद का त्यौहार इस बार 21 जुलाई को मनाया जाएगा। मुस्लिम धर्म में इस त्यौहार का काफी महत्व है। त्यौहार का दिन है और घर में पकवान न बने, भला ऐसा कभी हो सकता है क्या। इस बार त्यौहार पर कुछ अच्छा ट्राई कीजिए ताकि खाने वाला भी यही कहे वाह ! भाई वाह ! क्या स्वाद है ऐसा खाना तो कभी बाहर रेस्टोरेंट में भी नहीं खाया।

बकरीद पर ऐसे बनाएं लजीज मटन शामी, जो भी खाएगा वही कहेगा वाह ! क्या स्वाद है
X

मटन शामी

ईद का उल अजहा (Eid-ul-Adha) यानी बकरीद का त्यौहार इस बार 21 जुलाई को मनाया जाएगा। मुस्लिम धर्म में इस त्यौहार का काफी महत्व है। त्यौहार का दिन है और घर में पकवान न बने, भला ऐसा कभी हो सकता है क्या। इस बार त्यौहार पर कुछ अच्छा ट्राई कीजिए ताकि खाने वाला भी यही कहे वाह ! भाई वाह ! क्या स्वाद है ऐसा खाना तो कभी बाहर रेस्टोरेंट में भी नहीं खाया। बात जब बकरीद की है तो घरों में मटन की कई तरह की डिशेज बनाई जाती है और सबको पसंद कबाब की आता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि घर में रेस्टोरेंट से भी बेहतरीन शामी या गलौटी कबाब कैसे बनाएं। अगर आप रेसिपी के हिसाब से शामी कबाब (Shami Kabab) बनाएंगे तो खाने वाले उगलियां चाटते रह जाएंगे। जब भी आपने घर में शामी कबाब बनाया होगा तो शायद वो सॉफ्ट न बना हो और आपने कभी फिर दोबारा बनाने की कोशिश न की हो। शामी को बनाने के लिए बहुत छोटी-छोटी बातों का ध्यान रखना पड़ता है। अगर आप हर स्टेप को फॉलो करेंगे तो आपका कबाब का स्वाद खाने में लाजवाब होगा। आइए हम आपको बताते हैं कि आपको क्या करना है।

यह है बनाने की विधि

1- सबसे पहले आपके एक बर्तन लेना होगा और उसमें चना दाल को भिगोकर रखना होगा। चना दान को एक घंटे तक पानी में भिगा रहने दे।

2-आपने जो मटन रखा है उसमें दो चम्मच कच्चा पपीता मिला लीजिए। अगर आप मटन में कच्चा पपीता नहीं मिलाते है तो वो नरम नहीं होगा। ऐसे में शामी कबाब बनाने के लिए पपीता मिलाना बेहद आवश्यक है।

3- जब ये सब हो जाए तो कुकर या किसी पतीले में तेल गर्म करें। जब तेल गर्म हो जाएं तो साबुत मसाले जैसे काली मिर्च, बड़ी इलायची, हरी इलायची, तेजपत्ता, लौंग, दालचीनी को बर्तन में डाले और अच्छे से भून ले। ये सब भूनते समय गैस का फ्लैम थोड़ा कम रखे क्योंकि अगर गैस का फ्लेम ज्यादा होगा तो मसाले जल सकते हैं।

4- मसाला भूनने के बाद उसमें मटन कीमा डाले और उसे अच्छे से भूने। जब वो भून जाएं तो उसमें लाल मिर्ची का पाउडर, स्वादानुसार नमक मिलाकर करीब 5-10 मिनट तक पकाएं। इसके बाद जो आपने चने की दाल भिगोई थी उसमें आधा कप पानी मिलाकर उसे बर्तन में डाल दें। कूकर में बना रहे हैं तो दो सीटी लगाएं और अगर पतीले में रखा है तो बीच-बीच में चेक करते रहे कि मीट पक गया है या नहीं । मीट पकने के बाद इसे थोड़ी देर के लिए रख दें।

5 जब मीट थोड़ा ठंडा हो जाए तो इसे मिक्सी में पीस लें। जब इसका पेस्ट तैयार हो जाएं तो इसके आधे घंटे के लिए फ्रीज में रख दीजिए।

6- ठंडा होने के बाद मीट में कटी हुई प्याज, नींबू का रस मिला ले और फिर इसकी छोटी-छोटी टिक्की बना लें। टिक्की बनाकर 10 मिनट फ्रीज में रख दीजिए।

7-इसके बाद आप एक कढ़ाई में घी गर्म कीजिए और कबाब को गोल्डन ब्राउन होने तक डीप फ्राई करें। अब अब आपका लजीज मटर पूरी तरह तैयार है।

क्या क्या चाहिए आपको

चना दाल - 1 कप

बोनलेस मटन - 500 ग्राम

अदरक - 2 इंच

हल्दी पाउडर - आधा चम्मच

लहसुन - 10 लौंग

हरी मिर्च - 3 (बारीक कटी हुई)

पेकान नट्स - आधा (बारीक कटा हुआ)

पुदीना पत्ती - 3

नमक - आवश्यकतानुसार

ऑयल - आवश्यकतानुसार

घी- आवश्यकतानुसार

कच्चा पपीता

-दो कप पानी

साबुत मसाले में क्या क्या चाहिए

बड़ी इलायची - 2

छोटी इलायची - 2

दालचीनी स्टिक - आधा इंच

लाल मिर्च - 4

काली मिर्च - 1 स्पून

लौंग - 5

जीरा - हॉफ स्पून

Next Story