Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ये हैं फेफड़ों से निकोटिन साफ करने के आसान तरीके

धूम्रपान (स्‍मोकिंग) करना सेहत (Health) के लिए खतरनाक है,इससे कैंसर हो सकता है, ये टैग लाइन आपने अक्सर सिगरेट की डिब्बी पर जरूर देखी होगी। धूम्रपान (स्‍मोकिंग) करने वाले लोग इस बात को जानते हुए भी अपने साथ-साथ अन्य लोगों की सेहत (Health) को नुकसान पहुंचातें हैं। लगातार निकोटिन (Nicotine) का ज्यादा सेवन करने ये हमारे फेफड़ों (Lungs) में धीरे-धीरे जमा होने लगता है। जिसके बाद निकोटिन शरीर में एक धीमे जहर की तरह काम करता है और फेफड़ों (Lungs) को खराब करने के अलावा सांस संबंधी (Respiratory) गले संबंधी जैसी कई अन्य बीमारियों (Diseases) की वजह बनने लगता है। वैसे तो धूम्रपान (स्‍मोकिंग) की आदत को छोड़ना बेहद मुश्किल काम है, लेकिन अगर आप वास्तव में धूम्रपान (स्‍मोकिंग) छोड़ना चाहते हैं, तो इसके लिए सबसे पहले जरूरी है मजबूत इच्छाशक्ति और दूसरा सही दिशा-निर्देश का पालन करना।

ये हैं फेफड़ों से निकोटिन साफ करने के आसान तरीके

Purify Your Lungs from Nicotine

धूम्रपान (स्‍मोकिंग) करना सेहत (Health) के लिए खतरनाक है,इससे कैंसर हो सकता है, ये टैग लाइन आपने अक्सर सिगरेट की डिब्बी पर जरूर देखी होगी। धूम्रपान (स्‍मोकिंग) करने वाले लोग इस बात को जानते हुए भी अपने साथ-साथ अन्य लोगों की सेहत (Health) को नुकसान पहुंचातें हैं। लगातार निकोटिन (Nicotine) का ज्यादा सेवन करने ये हमारे फेफड़ों (Lungs) में धीरे-धीरे जमा होने लगता है। जिसके बाद निकोटिन शरीर में एक धीमे जहर की तरह काम करता है और फेफड़ों (Lungs) को खराब करने के अलावा सांस संबंधी (Respiratory) गले संबंधी जैसी कई अन्य बीमारियों (Diseases) की वजह बनने लगता है। वैसे तो धूम्रपान (स्‍मोकिंग) की आदत को छोड़ना बेहद मुश्किल काम है, लेकिन अगर आप वास्तव में धूम्रपान (स्‍मोकिंग) छोड़ना चाहते हैं, तो इसके लिए सबसे पहले जरूरी है मजबूत इच्छाशक्ति और दूसरा सही दिशा-निर्देश का पालन करना। जिसमें आज हम आपकी मदद कर सकते हैं। क्योंकि आज हम आपको आपके फेफड़ों (Lungs) से निकोटिन (Nicotine) को खत्म करने वाले खास तरीके के बारे में बता रहे हैं। जिनको अपनाकर आप बिना साइड इफेक्ट्स के आसानी से अपनी धूम्रपान (स्‍मोकिंग) की आदत को छोड़कर फेफड़ों (Lungs) को पहले की ही तरह साफ कर सकते हैं।

फेफड़ों से निकोटिन हटाने वाले ये हैं तरीके (Special Tips to Remove Nicotine from the Lungs)

1. एंटीऑक्सीडेंट फूड का करें सेवन

अगर आप नींबू, मौसमी और संतरा जैसे विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidant Food) से भरपूर फूड का लगातार सेवन करने से मेटाबॉल्जियम को मजबूत बनता है। इसके साथ ही धूम्रपान (स्‍मोकिंग) सप्ताह में रोजाना की जगह सप्ताह में सिर्फ 1-2 बार करते हैं, तो इससे आप आसानी से अपने फेफड़ों को निकोटिन से छुटकारा पा सकते हैं।

2. रोजाना करें एक्सरसाइज

अगर आप रोजाना एक्सरसाइज (Exercise) करते हैं, तो इससे आपकी श्वांस प्रणाली (Respretiory System) मजबूत होती है। जिसकी वजह से फेफड़ों में जमा निकोटिन धीरे-धीरे कम होने लगता है और ऐसे में एक्सरसाइज की लंबें समय तक आदत अपनाने से आप फेफड़ों में जमा निकोटिन को खत्म कर सकते हैं।

3. डेयरी प्रोडक्ट्स से रखें दूरी

अगर आप फेफड़ों में निकोटिन के जमा होने की बीमारी यानि फेफड़ों के खराब होने की स्थिति वजह से म्यूकस (Mucus) यानि पेट के निचले हिस्से में बार-बार दर्द होने की शिकायत रहती है, तो ऐसे में आपकी डेयरी प्रोडक्ट्स यानि दूध से बनी चीजों का सेवन करना बेहद खतरनाक साबित हो सकता है। इससे आपकी परेशानी बढ़ सकती है।

4. कैफीन और मीठे पादर्थो को खाने से बचें

फेफड़ों में निकोटिन के जमा होने पर कैफीन और मीठे पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि इसका सेवन करना आपके फेफड़ों के साथ-साथ शरीर के लिए भी बेहद घातक साबित हो सकता है। इसलिए अगर आप धूम्रपान (स्‍मोकिंग) करते हैं, तो इससे परहेज करना चाहिए।

5. पानी खूब पीएं

पानी पीना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। रोजाना 8-10 गिलास पानी पीना त्वचा में चमक आने, पेट को साफ रखने के साथ ही फेफड़ों से निकोटिन को साफ करने का काम भी करता है।
Next Story
Top