Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

फास्टफूड से ज्यादा खतरनाक है उसकी पैकिंग, हो सकती हैं ये जानलेवा बीमारियां

आज कल बच्चों के साथ बड़े भी टेस्ट चेंज करने के लिए फास्टफूड खाना पसंद करते हैं।

फास्टफूड से ज्यादा खतरनाक है उसकी पैकिंग, हो सकती हैं ये जानलेवा बीमारियां

आज कल बच्चे की घर की दाल-रोटी कम और फास्टफूड ज्यादा पसंद करते हैं। बल्कि समय न होने के कारण या टेस्ट चेंज करने के लिए कई बार लोग फास्टफूड खाना प्रिफर करते हैं।

फास्टफूड तो सेहत के लिए हानिकारक है लेकिन क्या आपको पता है कि फास्टफूड से ज्यादा खतरनाक उसकी पैकिंग होती है। जी हां, डॉक्टरों की मानें तो पैकिंग के लिए यूज किए गए रैपिंग पेपर्स ऐसे कैमिकल्स से बनाए जाते हैं, जिनसे गंभीर बीमारियां होती हैं।

इन पेपर्स को केमिकल्स से इसलिए बनाया जाता है, जिससे खाना जल्दी खराब न हो। अगर खाना इन केमिकल्स के संपर्क में ज्यादा देर तक रहता है तो इससे बीमारियां होती हैं। जानिए किस तरह हार्मफुल है फास्टफूड की पैकिंग

यह भी पढ़ें: ज्यादा प्याज खाने वालों को करना पड़ सकता है इन दिक्कतों का सामना

होते हैं केमिकल्स

फास्ट फूड को पैक करने के लिए जिन रैपिंग शीट्स का यूज किया जाता है, वह हानिकारक केमिकल्स से बना होता है। शीट में मौजूद सिंथेटिक केमिकल सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है।

ग्रीस का इस्तेमाल

फूड्स पैक करने वाले रैपिंग शीट्स पर चमक के लिए ग्रीस की परत चढ़ाई जाती है। इसका सीधा असर बॉडी की प्रतिरोधक क्षमता पर पड़ता है। इस कारण कैंसर होने का भी खतरा रहता है।

यह भी पढ़ें: पेट कम करने के 5 अचूक उपाय

नॉनवेज फूड से ज्यादा खतरा

वेज फूड्स की तुलना में नॉनवेज फास्टफूड ज्यादा हानिकारक होता है। लंबे समय तक मांस से बने फूड के रैपिंग पेपर के केमिकल्स के संपर्क में आने से ज्यादा खतरा रहता है।

कई गंभीर बीमारियों का खतरा

ज्यादा लंबे समय तक पैक रहने वाले फास्टफूड्स को खाने से बीमारी का खतरा ज्यादा रहता है। हार्ट डिसीज, कैंसर, कोलेस्ट्रॉल, हाई ब्लडप्रेशर, वजन बढ़ना, पेट खराब और पाचन शक्ति से जुड़ी बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है।

Next Story
Top