Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

वैक्सिंग करने का तरीका : वैक्सिंग के बाद स्किन का ऐसे रखें ख्याल

Waxing Karne ka Tarika : लड़की हो या लड़का हर कोई अपने अनचाहे बालों को हटाने के लिए कभी शेविंग तो कभी वैक्सिंग का सहारा लेते हैं। लेकिन कई बार वैक्सिंग (waxing) करने के बाद त्वचा पर रेशेज और लाल रंग के धब्बे पड़ जाते हैं। जिससे स्किन में जलन तो कभी दर्द होने का अनुभव होता है। अगर आप भी अपने अनचाहे बाल हटाने के लिए वैक्सिंग (waxing) करवाते हैं, तो ऐसे में कुछ बातों का ख्याल रखना बेहद जरूरी है। इसलिए आज हम आपको वैक्सिंग क्या है, वैक्सिंग के प्रकार, वैक्सिंग करने का तरीका और वैक्सिंग के बाद स्किन की देखभाल के तरीके बता रहे हैं।

वैक्सिंग करने का तरीका : वैक्सिंग के बाद स्किन का ऐसे रखें ख्यालWaxing Right Way to Do and Skin Care tips In Hindi

Waxing Karne ka Tarika : वैक्सिंग (waxing) करने से लंबें ही नहीं, बारीक बालों को भी आसानी से हटाने में मदद मिलती है, लेकिन इसमें जरा सी गलती आपकी त्वचा को जला भी सकती है। अगर आप पार्लर से वैक्सिंग (waxing) करवाती हैं, तो हमेशा एक्सपर्ट से ही करवाएं। इसके अलावा आप घर में भी कुछ आसान तरीकों से खुद अपने अनचाहे बालों से छुटकारा पा सकती हैं। आइए जानते हैं अनचाहें बालों को दूर करने वाली वैक्सिंग क्या है, वैक्सिंग के प्रकार, वैक्सिंग करने का तरीका और वैक्सिंग के बाद स्किन की देखभाल के तरीके बता रहे हैं।

वैक्सिंग क्या है / What is Waxing

वैक्सिंग हमारे शरीर के अनचाहे बालों को हटाने का एक आसान तरीका है। वैक्सिंग करने से त्वचा मुलायम बनती है, इसके साथ ही अंडर आर्म्स में पसीने की वजह से होने वाला कालापन भी दूर होता है। वैक्सिंग का रेगुलर इस्तेमाल यानि महीने में एक या दो बार करवाने से अनचाहे बालों की ग्रोथ कम हो जाती है। वैसे अक्सर लोग शरीर के कुछ खास हिस्सों (माथा, अपर लिप, अंडरआर्म्स, हाथ और पैरों) पर करवाते हैं। जबकि कुछ लोग पूरे शरीर पर वैक्सिंग को करवाना पसंद करते हैं। इनमें सेलेब्स पहले नंबर पर आते हैं।





वैक्सिंग के प्रकार /Types of Waxing

आमतौर पर 5 तरह की वैक्सिंग पाई जाती है। जिन्हें कोल्ड वैक्स ,हॉट वैक्स ,बिकनी वैक्स ,सॉफ्ट वैक्सिंग, हार्ड वैक्सिंग के नाम से जाना जाता है।

कोल्ड वैक्स (Cold Wax)

आज के दौर में अधिकांश लोग अनचाहे बालों को हटाने के लिए कोल्ड वैक्स का इस्तेमाल करने लगे हैं। क्योंकि कोल्ड वैक्स को गर्म करने का झंझट नहीं होताहै। इसके साथ ही इससे त्वचा के जलने का खतरा भी नहीं होता है। कोल्ड वैक्स को सबसे पहले हाथ और पैर पर लगाकर ट्राई करना चाहिए। इससे आपकी त्वचापर उसका रिएक्शन के बारे में पता चल जाएगा। आपको बता दें कि कोल्ड वैक्स स्ट्रिप्स बाजार में आसानी से मिल जाती है। जिन्हें त्वचा पर चिपकाएं और कुछसेकेंड बाद खींचकर निकाल लें।

हॉट वैक्स (Hot wax)

हॉट वैक्सिंग करने पर अक्सर वैक्स को पहले गर्म किया जाता है। हॉट वैक्स को त्वचा पर लगाने के बाद एक स्ट्रिप को ऊपर से लगाकर खींचा जाता है। शरीर के छोटे बालों को हटाने में हॉट वैक्सिंग सबसे ज्यादा फायदेमंद होती है। क्योंकि गर्म वैक्स की वजह से स्किन पोर्स खुल जाते हैं, जिससे छोटे बालों को आसानी से जड़ से हटाने में मिलती है।

सॉफ्ट वैक्स (Soft Wax)

सॉफ्ट वैक्स यानि मुलायम तरीके से अनचाहे बाल हटाना। सॉफ्ट वैक्स को ठंडे और गर्म दोनों ही तरीकों से किया जाता है। सॉफ्ट वैक्सिंग करने के लिए सबसे पहले बालों वाली जगह पर वैक्स को लगाकर ऊपर से मसलिन कपड़े से ढक देते हैं। जब वैक्स पूरी तरह सूख जाता है, तो कपड़े को हटाकर साफ कपड़े और पानी से त्वचा को साफ कर लें। आप पाएगें कि बाल हट गए हैं। सॉफ्ट वैक्स हाथ और पैरों के लिए बहुत अच्छी मानी जाती है। हेयर रिमूविंग क्रीम को सॉफ्ट वैक्स मान सकते हैं।

बिकनी वैक्स (Bikini Wax)

बिकनी वैक्स का उपयोग अधिकतर बिकनी या शार्ट वेस्टर्न ड्रेस पहनने वाली लड़कियां करवाना पसंद करती हैं। बिकनी वैक्स को पूरे शरीर पर किया जाता है। बिकनी वैक्स को बेहद दर्दभरा माना जाता है। क्योंकि इसमें जांघों के प्यूबिक हेयर हटाने के लिए किया जाता है।

हार्ड वैक्स (Hard Wax)

हार्ड वैक्स आमतौर पर ज्यादा बिजी रहने वाले लोगों के लिए फायदेमंद होती है। हार्ड वैक्स करने के लिए किसी भी तरह की वैक्स स्ट्रिप या कपड़े की जरूरत नहीं होती है। इसे गर्म करके सीधें त्वचा पर लगाना होता है। जब वैक्स सूख जाए, तो कुछ देर बाद अंगुलियों की मदद से वैक्स को धीरे-धीरे हटाना होता है। वैक्स की मदद से आपकी स्किन की त्वचा को बहुत आसानी से हटाया जा सकता है।

Share it
Top