Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शहनाज हुसैन ने बताया कि गर्मियों में एड़ियों की फटने की समस्या को कैसे करें दूर, ऐसे बनी रहेंगी खूबसूरत-मुलायम

गर्मी के मौसम में एड़ियों के फटने की समस्या आम बात है। इन दिनों एड़ियां न फटें, इसके लिए आप कई घरेलू प्राकृतिक उपचार अपना सकती हैं। इससे आपकी एड़ियां फटने से बचेंगी और खूबसूरत-कोमल नजर आएंगी।

शहनाज हुसैन ने बताया कि गर्मियों में एड़ियों की फटने की समस्या को कैसे करें दूर, ऐसे बनी रहेंगी खूबसूरत-मुलायम
X
शहनाज हुसैन ब्यूटी टिप्स (फाइल फोटो)

गर्मी में तापमान बढ़ने से वातावरण की नमी में कमी आ जाती है, जिसकी वजह से हमारी एड़ियों की त्वचा सूखी हो जाती है। इस कारण जब रूखापन बढ़ता है तो एड़ियां फटी नजर आती हैं। लेकिन आप कुछ उपायों से इन फटी एड़ियों से छुटकारा पा सकती हैं।

घर में ही दें फुट ट्रीटमेंट : अपनी त्वचा में ताजगी लाने के लिए अपने पांव को सप्ताह में एक बार घर में 'फुट ट्रीटमेंट' जरूर दें। पांव को गर्म पानी में डुबोने से एड़ियों की त्वचा मुलायम होती है, जिससे मृत कोशिकाओं को हटाने में मदद मिलती है। प्रतिदिन पांव और एड़ियों की उचित देखभाल सुनिश्चित करने के लिए नहाने से पहले अपने पांव में शुद्ध बादाम तेल की रोजाना मालिश करें। नहाने के बाद जब पांव गीले हों तो पांव पर क्रीम का इस्तेमाल कीजिए, जिससे पांव पर नमी बरकरार रखने में मदद मिलेगी।

शहद से करें प्राकृतिक उपचार: शहद में एंटबैक्टीरियल और एंटीमाइक्रोबियल गुण विद्यमान होते हैं, जो फटी एड़ियों को साफ करके इनका प्राकृतिक उपचार कर सकते हैं। तीन लीटर गुनगुने पानी में दो चम्मच शहद मिलाकर इसमें 20 मिनट तक पांव रखने से कोमलता आती है। आप शहद को 'फुट स्क्रब' या फुट मास्क के तौर पर भी प्रयोग कर सकती हैं।

फुट क्रीम लगाकर बांधें पट्टी: रात में सोने से पहले पांव पर 'फुट क्रीम' लगाकर पांव को कॉटन के कपड़े की पट्टी बांधकर सोने से घाव को प्राकृतिक तरीके से ठीक होने में मदद मिलती है और बिस्तर भी खराब नहीं होता।

नारियल तेल करें उपयोग: फटी एड़ियों के लिए नारियल तेल रामबाण की तरह काम करता है। नारियल तेल में विद्यमान एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीमाइक्रोबियल गुण विद्यमान होते हैं। जिससे त्वचा की नमी बरकरार रखने में मदद मिलती है। नारियल तेल त्वचा में नमी बरकरार रखने के इलावा त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाने में भी मददगार होता है। नारियल तेल को प्रतिदिन उपयोग में लाने से फटी एड़ियों की समस्या से बचा जा सकता है, यह पांव की बाहरी त्वचा के टिशू को मजबूत करता है, रात को सोने से पहले नारियल तेल से त्वचा की मालिश करने से सुबह आपके पांव कोमल और मुलायम बनकर उभरेंगे।

जैतून का तेल है काफी प्रभावी : हफ्ते में दो बार जैतून के तेल की ट्रीटमेंट, फटी एड़ियों की समस्या का प्रभावी निदान प्रदान करती है। जैतून के गर्म तेल को कॉटन बॉल से आहिस्ता-आहिस्ता पांव में गोलाकार तरीके से लगाने से त्वचा तेल को सोख लेगी। उसके बाद पांव को कॉटन के कपड़े से बांध लीजिए, थोड़ी देर बाद गुनगुने पानी से धो डालिए। रात को सोने से पहले प्रतिदिन जैतून के तेल से पांव की मालिश करने से आपको बेहतरीन परिणाम मिलेंगे।

Also Read: मास्क लगाने से लोगों को हो रही है एक्ने प्रॉब्लम, बचाव के लिए फॉलो करें ये टिप्स

बातों का भी रखें ध्यान:

- मौसम के हिसाब से पांव में फुट वियर का चयन कीजिए। हवाई चप्पल, सैंडल आदि के उपयोग से परहेज कीजिए और बंद जूतों को प्रयोग में लाएं।

- गर्मियों में हमेशा कॉटन के मोजे को प्राथमिकता दें, क्योंकि सिंथेटिक्स के मोजे से पांव की त्वचा रूखी हो सकती है।

- केमिकल युक्त साबून, शैंपू को जरूरत से ज्यादा उपयोग में ना लाएं और विटामिन ई, कैल्शियम, जिंक, ओमेगा-3 आदि से भरपूर डाइट लें।

यह ध्यान रखें कि अगर आपकी फटी एड़ियों की समस्या शारीरिक बीमारी या जीवनशैली से जुड़ी है तो आप किसी विशेषज्ञ की सलाह के बिना कोई भी उपचार कतई न करें।

Next Story