Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शहनाज हुसैन ने बताया कि गर्मियों में होंठों को कैसे रखें कोमल और खूबसूरत

गर्मियों के शुष्क मौसम में होंठों के फटने की समस्या अधिकांश महिलाओं को हो जाती है। अगर हम कुछ घरेलू और प्राकृतिक उपाय अपनाएं तो इस समस्या से बच सकते हैं। जानें, गर्मी में भी हमारे होंठ लाल, खूबसूरत और मुलायम कैसे नजर आएं।

शहनाज हुसैन ने बताया कि गर्मियों में होंठों को कैसे रखे कोमल और खूबसूरत
X
गर्मियों में होंठों को ऐसे रखें कोमल (फाइल फोटो)

गर्मियां शुरू होते ही होंठों के फटने की समस्या शुरू हो जाती है। असल में इस मौसम में तापमान के बढ़ जाने से वातवरण में नमी खो सी जाती है, वातावरण ज्यादा शुष्क हो जाता है, जिससे होंठ फटने शुरू हो जाते हैं। इस समस्या से आप आसानी से बच सकती हैं, इसके लिए आपको कुछ घरेलू उपाय अपनाने होंगे, साथ ही कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना होगा-

लगाएं नारियल तेल : नारियल के तेल में पोषक और नमी बनाए रखने वाले तत्व पाए जाते हैं। नारियल तेल त्वचा को कोमल बनाता है। इसे होंठों पर लगाने से सूर्य की अल्ट्रा वॉयलेट किरणों के नुकसान को रोका जा सकता है। यह स्किन क्रीम से बेहतर सुरक्षा कवच प्रदान करता है। रात को सोते समय होंठों पर नारियल तेल या मलाई से मालिश करें, इसे रात भर होंठों पर रहने दें, इससे होंठों की नमी बरकरार रहेगी और आपके होंठ मुलायम, नर्म और आकर्षक बने रहेंगे।

ऑर्गन तेल भी है फायदेमंद : रात्रि में ऑर्गन तेल लगाने से होंठों की त्वचा को पौष्टिकता मिलती है। ऑर्गन ऑयल अनसैचूरेटड फैटी एसिड से भरपूर होता है। मॉयश्चराइज्ड क्रीम, लोशन, फेस पैक और हेयर ऑयल जैसे सौंदर्य प्रसाधनों में इसका प्रयोग किया जाता है। यह त्वचा के लचीलेपन को बनाए रखकर, उसको जवां बनाए रखती है, बुढ़ापे के लक्षणों को रोकता है। इसमें त्वचा में शीघ्रता से समा जाने के गुण होते हैं। इसे होंठों के लिए अति उत्तम माना जाता है। ऑर्गन ऑयल से आप सीधे होंठों पर मालिश कर सकती हैं।

लगाएं दूध-गुलाब की पंखुड़ियों का पेस्ट : थोड़े से दूध में कुछ गुलाब की पंखुड़ियां डालकर तीन घंटे के लिए छोड़ दें, इसके बाद इसका पेस्ट बनाकर इसे आधा घंटे तक होंठों पर लगाकर रखें। फिर ताजे पानी से धो लें। रात को होंठों की गुलाब जल से मालिश करने से होंठों का कालापन दूर होता है। होंठ लाल, खूबसूरत और मुलायम हो जाएंगे।

शहद-ग्लिसरीन का मिश्रण है उपयोगी : शहद और ग्लिसरीन के मिश्रण को होंठों पर दस मिनट तक लगाने के बाद, साफ ताजे पानी से धोने से काफी लाभ मिलता है। इसे रात को होंठों पर लगाकर सुबह तक लगे रहने दें। इसके बहुत अच्छे परिणाम मिलते हैं।

होंठों पर लगाएं सरसों तेल-हल्दी पावडर : सरसों के तेल में हल्दी पावडर मिलाकर सुबह-शाम होंठों और नाभि में लगाने से होंठ मुलायम और नर्म हो जाते हैं। सौंदर्य विशेषज्ञों का मानना है कि सरसों तेल, नारियल तेल, जैतून तेल को होंठों पर लगाने से इसे फटने से बचाया जा सकता है।

अन्य उपयोगी उपाय

- एक कप गर्म पानी में ग्रीन टी बैग डुबोने के बाद इस बैग को अपने होंठों पर रखें। ग्रीन टी में प्राकृतिक उपचार के गुण होते हैं, जो त्वचा के लिए काफी फायदेमंद होते हैं।

- अपनी अंगुली पर गाय का घी लगाकर होंठों पर आहिस्ता-आहिस्ता मसाज करें, जिससे होंठों में रक्त संचार बढ़ेगा और फटे होंठों की समस्या से निजात मिलेगी।

-नीबू, शहद और चीनी का मिश्रण बनाकर इसे फ्रिज में रख लें। इसे दिन में तीन-चार बार अपनी सुविधा अनुसार होंठों पर लगा लें।

-एक चम्मच नीबू का रस, एक चम्मच शहद और अरंडी का तेल मिलाकर इसका मिश्रण बना लें। इसे होंठों और इसके आस-पास लगाकर कुछ समय बाद धो लें।

-रात को होंठों की गुलाब जल से मालिश करने से होंठों का कालापन दूर होता है।

-टमाटर के रस में मलाई या देसी घी मिलाकर होंठों पर लगाने से भी वे मुलायम हो जाते हैं।

Also Read: नहीं हटेंगी आपसे किसी की नजर जब पहनेंगी साड़ी के साथ यह ब्लाउज

-कच्चे खीरे का रस दिन में तीन या चार बार लगाने से होंठों की नमी वापस आ जाती है, होंठों का फटना बंद हो जाता है।

-अपने होंठों पर साबुन या पावडर के प्रयोग से परहेज करें।

-चेहरे को धोने के बाद होंठों को मुलायम तौलिए से हल्के से पोंछें ताकि मृत कोशिकाओं को हटाया जा सके।

-छाछ से निकले ताजे सफेद मक्खन में केसर मिलाकर बने मिश्रण को होंठों पर लगाने से होंठ गुलाबी और मुलायम हो जाते हैं।

- देसी या गाय के दूध से बने घी में चुटकी भर नमक मिलाकर दिन में दो तीन बार नाभि पर लगाने से होंठ फटना बंद हो जाते हैं।

सही रखें खान-पान

गर्मी में शरीर में नमी की कमी होंठों के फटने का मुख्य कारण मानी जाती है। इस कमी को पूरा करने के लिए दिन में 2-3 लीटर पानी जरूर पिएं। साथ ही लस्सी, दही, फ्रूट जूस, सूप जैसे पेय पदार्थों को अपनी दिनचर्या में शामिल करें, जिससे शरीर में नमी पर्याप्त मात्रा में बनी रहे। आप मौसमी फलों जैसे तरबूज, खरबूजे, हरे पत्ते बाली सब्जियों के सलाद भी खाएं। सलाद को स्वादिष्ट बनाने के लिए उसमें आप अंकुरित अनाज, अलसी, तिल, पपीते, सूरजमुखी के बीज भी डाल सकती हैं, जिससे आपको मिनरल और विटामिन पर्याप्त मात्रा में मिले। बीजों और सूखे मेवे में फैटी एसिड्स होते हैं, जो त्वचा में नमी को बरकरार रखकर त्वचा को मुलायम-कोमल बनाते हैं। इस मौसम में शरीर में नमी की कमी पैदा करने वाले मसालेदार आहार और जंक फूड से बचना चाहिए। गर्मियों में होंठों के फटने के लिए हार्मोंस का डिस्बैलेंस होना या कई बार घटिया सौंदर्य प्रसाधनों का उपयोग भी हानिकारक होता है।

Next Story