Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सरसों के तेल से निखारें खूबसूरती और पाएं बेदाग त्वचा

सरसों का तेल यानी मस्टर्ड ऑयल का यूज खाना बनाने में ज्यादा किया जाता है, इससे हेल्थ पर पॉजिटिव इंपैक्ट होता है। साथ ही इससे स्किन, हेयर की केयर भी की जा सकती है। जानिए, मस्टर्ड ऑयल से स्किन को होने वाले बेनिफिट्स के बारे में।

सरसों के तेल से निखारें खूबसूरती और पाएं बेदाग त्वचा
X

सरसों के तेल को हेल्दी माना जाता है, क्योंकि इसमें ट्रांस फैट नहीं पाया जाता। इसमें सैचुरेटेड फैट बहुत लो होता है। सरसों में मोनो-अनसेचुरेटेड फैट्स और पोलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड्स जैसे ओमेगा-3 ज्यादा होता है। भारतीय घरों में सरसों का तेल खूब इस्तेमाल किया जाता है। साथ ही इसे ब्यूटी, स्किन केयर के लिए भी यूज किया जा सकता है।




नेचुरल सनस्क्रीन

सरसों के तेल में मौजूद विटामिन नेचुरल सनस्क्रीन का काम करते हैं। इस तेल में मौजूद विटामिन ई हमारी त्वचा को सूर्य की तेज किरणों और एन्वॉयर्नमेंट में मौजूद दूसरे टॉक्सिंस से बचाता है। साथ ही ये चेहरे पर झुर्रियां आने से रोकता है। चेहरे पर जब भी सरसों का तेल लगाएं, इसे अच्छी तरह मसाज करना न भूलें।




दाग-धब्बे हटाए

सरसों के तेल से रोज चेहरे पर मसाज करने से दाग-धब्बे दूर होते हैं। इसके लिए सरसों के तेल में बेसन, एक चम्मच दही और कुछ बूंदें नीबू की मिलाकर पैक तैयार कर लें। सारी चीजों को अच्छी तरह मिलाएं और चेहरे और गले पर लगाएं। पंद्रह मिनट बाद पानी से धो लें। अच्छे और जल्द रिजल्ट के लिए इस प्रोसेस को हफ्ते में कम से कम तीन बार करें।




रंगत निखारे

आम धारणा है कि सरसों के तेल से रंग सांवला होता है लेकिन असल में ऐसा नहीं है। सरसों के तेल में नारियल का तेल बराबर मात्रा में मिलाएं और इसे चेहरे पर लगाएं। अब इसे तब तक मसाज करें जब तक कि यह अच्छी तरह स्किन में एब्जॉर्ब नहीं हो जाता। रेग्युलर मसाज करने से आपके चेहरे की नमी बरकरार रहेगी और रंगत निखरेगी।

होंठ बनेंगे मुलायम

अगर आपको रेग्युलर लिप बाम से मनचाहा रिजल्ट नहीं मिल रहा है तो आप अपने होंठों पर सरसों का तेल लगाएं। इसे नेचुरल मॉयश्चराइजर माना जाता है। यह आपकी त्वचा, होंठों को सॉफ्ट रखने में मददगार है।




हेयर केयर

सरसों के तेल में कई एंटी-बैक्टेरियल, एंटी-फंगल क्वालिटीज होती हैं। अगर उसे रोज सिर में लगाया जाए तो यह बालों के फंगल इंफेक्शन से लड़ने में मदद करता है। साथ ही बालों को दोमुंहे होने और टूटने से बचाता है। सरसों के तेल में बराबर मात्रा में ऑलिव और नारियल तेल मिलाएं और अपने बालों में धीरे-धीरे जड़ों से सिरों तक मसाज करें। इसके बाद दस मिनट के लिए एक गर्म या मोटे तौलिए से अपने सिर को ढंक लें।

दो घंटे बाद पानी से या माइल्ड शैंपू से बालों को धो लें। रोज रात को सरसों के तेल की बालों में मालिश करने से बाल असमय सफेद होने से बचते हैं। सरसों के तेल में बीटा-कैरोटीन भी पाया जाता है। अगर इस तेल को रेग्युलर सिर में लगाया जाता है तो बालों को बढ़ने में मदद करता है, उन्हें काला बनाता है और चमक को भी बरकरार रखता है।

लेखिका - सरस्वती रमेश

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story