Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Interior Design Tips : किचन बनवाते समय इन बातों का रखें ख्याल

Interior Design Tips : जिस तरह घर के दूसरे पार्ट के इंटीरियर की तारीफ आपके जानने वाले करते हैं, वैसी ही तारीफ आपके किचेन को भी मिल सकती है। बस इसके लिए आपको किचेन बनवाते वक्त कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना होगा।

Interior Design Tips : किचन बनवाते समय इन बातों का रखें ख्याल
X

Interior Design Tips : हर गृहिणी के लिए उसका किचेन सबसे खास जगह होती है। यहीं पर वह अपने फैमिली मेंबर्स के लिए प्यार से, बड़े जतन से तरह-तरह के पकवान, भोजन बनाती है। ऐसे में इस जगह का उसकी पसंद के हिसाब से बना होना जरूरी है। वह चाहती है कि उसकी किचेन का इंटीरियर हर मायने में परफेक्ट हो, लेकिन आजकल मल्टीस्टोरी बिल्डिंग्स में मनचाहा किचेन मिलना संभव नहीं होता है। ऐसे में अगर आप अपने किचेन को रिडिजाइन करने की प्लानिंग में हैं तो इस बार कुछ बातों पर ध्यान दें, तभी आपको परफेक्ट किचेन मिल पाएगा।




कैबिनेट

कैबिनेट को कभी भी गैस स्टोव के ऊपर न बनवाएं। न केवल धुएं से कैबिनेट की लकड़ी काली पड़ जाती है बल्कि ऐसी स्थिति में आग लगने का भी डर ज्यादाहोता है। कैबिनेट लेमिनेटेड फिनिश (सनमाइका) के बनवाएं। कैबिनेट की अंदर की लकड़ी की शेल्फ पेंट करवा लें। अगर प्लेटफॉर्म के नीचे कैबिनेट बनवा रही हैं तो इसमें शटर के साथ-साथ चार इंच के टाइल्स लगवा लें। इससे कैबिनेट के अंदर नमी नहीं रहेगी।




सिंक

कुछ समय पहले तक महिलाएं रसोई की सिंक पर ज्यादा ध्यान नहीं देती थीं। लेकिन अब सिंक को भी इंपॉर्टेंस दी जाती है। शायद यही वजह है कि इन दिनोंबाजार में तमाम तरह और साइज के बने बनाए सिंक मिल जाते हैं। संगमरमर, पत्थर, ग्रेनाइट और स्टील के सिंक में एक से बढ़कर एक डिजाइन इन दिनों बाजार में मौजूद हैं। लेकिन अगर खूबसूरती से ज्यादा सफाई को महत्व देती हों तो आंख मूंदकर स्टील के सिंक को अपनी रसोई में लगवाएं।

यह न केवल मजबूत होता है बल्कि बहुत आसानी से साफ किया जा सकता है, इससे रसोई को कीड़ों-मकोड़ों से मुक्ति मिलती है। सिंक के पास ही थोड़ा ऊंचा एक काउंटर बनवाना सुविधाजनकरहेगा, जिस पर धुले बर्तन रखे जा सकें। सिंक के पास ही फिल्टर वॉटर मशीन भी लगवाएं। इस बात का भी ध्यान रखें कि अगर आपकी रसोई छोटी है तो बहुत बड़ा सिंक न लगाएं।




प्लेटफॉर्म

वैसे तो आपके मन में जिस तरह के प्लेटफॉर्म की बनवाने की इच्छा हो, अपनी रसोई में वैसा ही प्लेटफॉर्म बनवाएं। लेकिन इन दिनों ट्रेंड में एल शेप और यू शेपके काउंटर हैं। प्लेटफॉर्म ब्लैक ग्रेनाइट का बनवाएं, इनकी उम्र लंबी होती है। संगमरमर के काउंटर इन दिनों चलन में नहीं हैं। एक तो संगमरमर कच्चा होता है,जिससे कई बार इसमें दरार आ जाती है और अंदर पानी जाता रहता है, जिससे रसोई में सीलन आ जाती है। दूसरी बात संगमरमर में दाग और धब्बे जल्दी पड़ते हैं, साथ ही मुश्किल से साफ होते हैं।

ड्रेनेज

रसोई का जरूरी हिस्सा है ड्रेनेज। अगर सिंक में पानी रुकता हो, नाली बंद हो जाती हो तो आपके लिए समस्या खड़ी हो जाती है। रसोई में कभी भी कर्व्ड पाइप नलगवाएं। पीवीसी के सीधे पाइप लगवाएं, जिसमें से वेस्ट आसानी से निकल जाता है।




टाइल्स

रसोई को साफ-सुथरा रखने के लिए टाइल्स लगवाना भी जरूरी है। टाइल्स की सफाई आसान होती है। ये धुएं और तेल के छींटों से खराब नहीं होते हैं। आमतौरपर प्लेटफॉर्म से सात फुट ऊंचाई तक दीवार पर टाइल्स लगवाए जाते हैं। इन दिनों बाजार में तरह-तरह के टाइल्स मौजूद हैं। रसोई में क्रीम और ऑफ व्हाइटटाइल्स का मिक्स मैच बेहतर रहता है।

रखें ध्यान

- रसोई घर की खिड़की कुकिंग काउंटर के ऊपर न हो।

- रसाई में बिजली के तार प्लास्टिक कोटेड होने चाहिए।

लेखिका - मधु सिंह

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story