logo

ये हैं एकतरफा प्यार के लक्षण : इन 4 पॉइंट्स से जानें कहीं आप भी तो इसके शिकार नहीं

रिश्ता कोई भी हो उसकी शुरुआत हमेशा रिस्पेक्ट से ही शुरु होती है। दोस्ती (Friendship) हो या रिलेशनशिप (Relationship) दोनो ही रिश्ते में अगर एक दूसरे के लिए रिस्पेक्ट (Respect) नही है तो वह रिश्ता टिकाऊ नही होता है। उसे एक न एक दिन आखिरी पड़ाव पर आकर खत्म ही होना है। अगर आपका पार्टनर (Partner) आपकी भावनाओं (Feelings) की कद्र कर रहा है, आपको समझ रहा है तो समझ लीजिए कि वह व्यक्ति आपका अपना है और वह दिल (Heart) से आपके साथ रिश्ता निभा रहा है। ऐसे में अगर आपसे कोई भी गलती हो जाए तो आप बिना देरी किए अपनी गलती की माफी मांग ले।

ये हैं एकतरफा प्यार के लक्षण : इन 4 पॉइंट्स से जानें कहीं आप भी तो इसके शिकार नहीं

रिश्ता कोई भी हो उसकी शुरुआत हमेशा रिस्पेक्ट से ही शुरु होती है। दोस्ती (Friendship) हो या रिलेशनशिप (Relationship) दोनो ही रिश्ते में अगर एक दूसरे के लिए रिस्पेक्ट (Respect) नही है तो वह रिश्ता टिकाऊ नही होता है। उसे एक न एक दिन आखिरी पड़ाव पर आकर खत्म ही होना है। अगर आपका पार्टनर (Partner) आपकी भावनाओं (Feelings) की कद्र कर रहा है, आपको समझ रहा है तो समझ लीजिए कि वह व्यक्ति आपका अपना है और वह दिल (Heart) से आपके साथ रिश्ता निभा रहा है। ऐसे में अगर आपसे कोई भी गलती हो जाए तो आप बिना देरी किए अपनी गलती की माफी मांग ले। रिलेशनशिप में आने के बाद लड़ाई झगड़े होना तो लाजमी है। लेकिन अगर आपका पार्टनर (Partner) आपके साथ अच्छे तरीके से पेश नही आ रहा है और आपकी बातों को इग्नोर (Ignore) कर रहा है साथ ही आपकी भावनाओं (Feelings) को लगातार ठेस पहुंचा रहा है। इसलिए आज हम आपको बताने जा रहें हैं एकतरफा प्यार के लक्षण।

एकतरफा प्यार के लक्षण :

एकतरफा प्यार के लक्षण 1

रिलेशनशिप (Relationship) में रहना धीरे-धीरे करके और भी मुश्किल तब हो जाता है जब आप अपने पार्टनर को अपना सबकुछ मान रहें होते हैं और वह आपको कुछ भी नही मानता। हर बार आपको चोट पहुंचाता है और आपसे बदसलूकी करता है। जिसके चलते पार्टनर के साथ रहने में घुटन सी महसूस होने लगती है, तो ऐसे में एक बार जरूर सोचिये कि कहीं आपका प्यार (Love) एकतरफा तो नही है।

एकतरफा प्यार के लक्षण 2

बता दे कि अगर आपके साथ ऐसा कुछ भी है तो ऐसे में आपको उस व्यक्ति से दूरी बना लेनी चाहिए। क्योंकि ऐसे रिश्ते खुशी के बजाय बस गम देते हैं। अगर सिर्फ आप ही हमेशा कॉल (Call) व मैसेज (messege) करते हैं और वह व्यक्ति कभी आपको कॉल नही करता और आपके कॉल व मैसेज (messege) को इग्नोर (Ignore) करने की कोशिश करता है। बहाने बनाके सही से बात नही करता है और आपके द्वारा घूमने के प्लान बनाने पर भी नकार देता है तो ऐसे रिश्ते को घसीटने के बजाय खत्म कर देना चाहिए। क्योंकि ऐसे में आप खुद को तकलीफ देते हैं।

एकतरफा प्यार के लक्षण 3
किसी भी रिलेशन (Relation) में बिना गलती के माफी मांगना सही बात नही होती है। अगर आपका पार्टनर (Partner) आपको बिना किसी गलती के डांट फटकार लगाता है और कहीं और का गुस्सा आप पर निकालता है। आप बिना किसी गलती के अपने पार्टनर (Partner) से सॉरी (Sorry) बोलते हैं तो आप समझ लीजिए कि यह एकतरफा प्यार (One Sided Love) है और आपके पार्टनर (Partner) की लाइफ (Life) में आपकी कोई अहमियत (Value) नही है। ऐसे में उस रिश्ते से दूरी बना लेनी चाहिए।
एकतरफा प्यार के लक्षण 4
सोचने वाली बात है कि अगर आप किसी को पसंद (Like) करते हैं तो आप उसकी पसंद नापसंद हर चीज का खयाल रखते हैं और अपने पार्टनर (Partner) को हमेशा खुश रखने की कोशिश करते हैं। उसके लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं। यदि ऐसे में आपका पार्टनर (Partner) आपको लगातार तकलीफ दे रहा हो तो आपको बिना देरी किए उस रिश्ते को खत्म कर देना चाहिए।

Latest

View All

वायरल

View All

गैलरी

View All
Share it
Top