logo
Breaking

सावधान! ज्यादा नमक खाने से हो सकती हैं ये 5 गंभीर समस्याएं

नमक खाने के लिए एक ऐसा इंग्रिडिएंट है, जिसके थोड़ा भी कम या ज्यादा होने पर खाने का टेस्ट बदल जाता है। अगर नमक कम होगा तो खाना फीका लगता है और ज्यादा होता है तो खाना खाया नहीं जाता। कुछ लोग खाने में नमक की मात्रा ज्यादा लेते हैं, तो कुछ लोग कम।

सावधान! ज्यादा नमक खाने से हो सकती हैं ये 5 गंभीर समस्याएं

नमक खाने के लिए एक ऐसा इंग्रिडिएंट है, जिसके थोड़ा भी कम या ज्यादा होने पर खाने का टेस्ट बदल जाता है। अगर नमक कम होगा तो खाना फीका लगता है और ज्यादा होता है तो खाना खाया नहीं जाता। कुछ लोग खाने में नमक की मात्रा ज्यादा लेते हैं, तो कुछ लोग कम। लेकिन क्या आपको पता है कि शरीर में नमक की ज्यादा मात्रा जाने से सेहत को काफी नुकसान पहुंचता है।

शरीर में जरूरत के हिसाब से ही नमक की मात्रा पहुंचनी चाहिए। नमक की मात्रा कम या ज्यादा होने पर सेहत पर बुरा असर पड़ता है। जानिए ज्यादा नमक खाने से कौन-कौन सी बीमारियां हो सकती हैं।

ब्लड प्रेशर

नमक का रासायनिक नाम सोडियम क्लोराइड होता है। शरीर में सोडियम क्लोराइड की अधिक मात्रा के कारण शरीर की धमनियों में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ जाता है, जिसका असर दिल पर पड़ता है और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है।

यह भी पढ़ें: सुबह चांदी और रात में जहर है दही खाना, जानिए दही के साइड इफेक्ट्स

किडनी

ज्यादा नमक के सेवन से किडनी में कैल्शियम की मात्रा अधिक हो जाती है। इससे जिससे किडनी में पथरी यानि स्टोन होने की संभावना भी बढ़ जाती है। इससे बचने के लिए उचित मात्रा में ही नमक का सेवन करें।

डायबिटीज

नमक का ज्यादा सेवन टाइप 2 डायबिटीज का कारण बनता है। नमक में पाया जाने वाला सोडियम इंसुलिन को प्रभावित करता है और इससे टाइप 2 डायबिटीज होने के चांसेस बढ़ जाते हैं।

पानी का जमाव

ज्यादा नमक खाने के कारण शरीर में पानी इकट्ठा होने लगता है। इसे साइंटिफिक भाषा में वॉटर रिटेंशन कहते हैं। वॉटर रिटेंशन की समस्या के कारण हाथ, पैर और चेहरे में सूजन आ जाती है।

डिहाइड्रेशन

खाने में ज्यादा नमक लेने से आपको डिहाइड्रेशन की समस्या भी हो सकती है। इससे बचने के लिए बहुत जरूरी है कि आप खाने में जरूरत के हिसाब से नमक लें और ज्यादा से ज्यादा पानी पीएं।

Share it
Top