Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सावधान: कहीं आपके बच्चे का स्कूल समय जल्दी तो नहीं, पड़ सकती है खतरे में जान

शिक्षा संचार क्रांति के जमाने में स्कूल खुलने होने का सुबहा का समय आपके बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डाल सकता है। क्योंकि कुछ स्कूल खुलने के समय में कोई बदलाव नहीं करते हैं।

सावधान: कहीं आपके बच्चे का स्कूल समय जल्दी तो नहीं, पड़ सकती है खतरे में जान

शिक्षा संचार क्रांति के जमाने में स्कूल खुलने होने का सुबह का समय आपके बच्चों के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डाल सकता है। क्योंकि कुछ स्कूल खुलने के समय में कोई बदलाव नहीं करते हैं।

आपको बता दें कि अलास्का के एंकोरेज स्कूल में एक लंबी डिबेट में बच्चों के माता-पिता को शामिल किया है। जिसमें बच्चों के माता-पिता से इस बारे में चर्चा की गई, तो माता-पिता के विचारों पर रिसर्च करके बच्चों के व्यबहार का पता लगाया गया हैं। जिसमें बच्चों के माता-पिता ने व्यावहारिक चिंताओं के खिलाफ बच्चों के लिए आदर्श स्कूल के शुरुआती समय को बताया।

ये रिसर्च बच्चों के मस्तिष्क तंत्र पर आधरित हैं जिसमें सामने आया है कि स्कूल का शुरूआती समय जल्दी होने से बच्चे पूरी नींद नहीं ले पाते हैं और जब बच्चें स्कूल जाते हैं। तो उनका मानसिक संतुलन बिगड़ जाता है। जिससे बच्चें कक्षा में बेहतर प्रर्दशन न करना, कक्षा में नींद आना, कक्षा में अच्छें ग्रेड न लाना और रास्ते में किसी वाहन से टकरा जाना जैसी परेशानियां आती हैं।

इस रिसर्च में उन बच्चों को शामिल नहीं किया हैं जो बच्चे स्कूल के समय में सोते है ये सबूत अमेरिका की रोग नियंत्रण एवं निवारण केंद्र, अमेरिकन स्लीप एसोसिएशन, अमेरिकन साइकोलॉजिकल एसोसिएशन, अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के स्टेटमेंट पर आधारित है।

इस रिसर्च में उन स्कूलों को शामिल किया गाय, जिनका शुरूआती समय सुबहा 8:30 बजे से पहले का होता है या 7:30 बजे का होता है।

Next Story
Top