Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

सावधान! घर की अच्छी तरीके से साफ-सफाई के बाद भी रह जाती है धूल

घर की अच्छी तरह से साफ-सफाई करने के बाद भी घरों में धूल रह जाती है। इतना ही नहीं औसतन 125 ग्राम धूल घरों में रहती है। कितना भी अच्छी सफाई क्यों न की गई हो धूल रह ही जाती है। ये हाल है देश की राजधानी दिल्ली का, जहां घरों में रोज सफाई होती है फिर भी घर साफ नहीं रहता।

सावधान! घर की अच्छी तरीके से साफ-सफाई के बाद भी रह जाती है धूल

ज्यादातर घरों में रोज साफ-सफाई और झाड़ू-पोछा होता है, लेकिन क्या आपको मालूम है कि रोज सफाई के बाद भी घर गंदा ही रहता है। घर की अच्छी तरह से साफ-सफाई करने के बाद भी घरों में धूल रह जाती है। इतना ही नहीं सफाई के बाद थोड़ी बहुत धूल नहीं बल्कि लगभग 125 ग्राम धूल घरों में रहती है।

कितना भी अच्छी तरह से सफाई क्यों न की गई हो घरों में धूल रह ही जाती है। ये हाल है देश की राजधानी दिल्ली का, जहां घरों में रोज सफाई होने के बाद भी घर साफ नहीं रहता।

यह भी पढ़ें: इन बीमारियों के लिए रामबाण का काम करता है काला नमक

हाल ही में एक रिसर्च घरों में आने वाली गंदगी और धूल-मिट्टी के ऊपर की गई। इसके बाद काफी चौंकाने वाले नतीजे सामने आए हैं, जिसमें ये पता चला है कि सफाई के बाद भी घरों में धूल रह जाती है।

100 घरों का निरीक्षण

डायसन इंडिया व फिक्की रिसर्च ऐंड एनालिसिस सेंटर की तरफ से दिल्ली, मुंबई और बेंगलौर में करीब 100 घरों की सफाई पर रिसर्च किया गया। इस दौरान घर की चार जगहों कार्पेट, मैट्रेस, सोफा और कार के नीचे की सफाई का निरीक्षण किया गया। रोज होने वाली साफ-सफाई के बाद इन जगहों से तकरीबन 125 ग्राम धूल निकली।

यह भी पढ़ें: दिल्ली, मुंबई समेत इस शहर में कम सैलरी के कारण सो नहीं पाते हैं लोग

विशेषज्ञों की राय

विशेषज्ञों की मानें घर में पाए जाने वाली इस तरह की धूल भी सेहत के लिए काफी खतरनाक है। ऐसा इसलिए क्योंकि ज्यादातर लोग काफी समय घरों में ही बिताते हैं, जहां वह अशुद्ध वातावरण में सांस लेते हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार 2016 में 90 लोगों की मौत वायु प्रदूषण के कारण असमय मौत हो गई।

इसके अलावा दिल्ली में 5 वर्ष से कम उम्र की आयु के करीब 6 लाख बच्चों की मौत का कारण वायु प्रदूषण बना। वहीं 22 लाख स्कूली बच्चों के फेफड़ों पर असर पहुंचा है।

Next Story
Top