Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पुरुष अपनी गर्लफ्रेंड या बीवी से शेयर करना नहीं करते पसंद, ये अहम 10 बातें

पुरुषों को टीवी पर आने वाले मैच का इतना क्रेज होता है कि उस दौरान वो पार्टी और जॉब तक को दांव पर लगा सकते हैं।

पुरुष अपनी गर्लफ्रेंड या बीवी से शेयर करना नहीं करते पसंद, ये अहम 10 बातें
X
नई दिल्ली. जहां महिलाओं की बातों में ज्यादातर शॉपिंग और घर-गृहस्थी की बातें शामिल होती हैं वहीं पुरुष आपस में क्या बातें करते हैं ये जानना वाकई बहुत रोमांचक होता है। ऐसी बहुत सारी बातें होती हैं जो पुरुष अपनी गर्लफ्रेंड, बीवी और फैमिली के साथ शेयर नहीं कर पाते क्योंकि उनका ये दुःख एक पुरुष ही बेहतर समझ सकता है। क्या हैं ये बातें....
आपका दोहरा नेचर
किसी बात को लेकर गुस्से में होने के बावजूद, महिलाओं से कैसी हो? सवाल के जवाब में हमेशा, ठीक हूं ही सुनने को मिलेगा। शॉपिंग पर जाने से पहले कहेंगी कि फिलहाल किसी भी चीज की जरूरत नहीं लेकिन लौटते वक्त हाथों में शॉपिंग बैग्स का भरमार होता है। ज्यादातर पुरुष महिलाओं के इस नेचर से चिढ़ते हैं और इसका डिस्कशन वो ब्वॉयज टॉक के दौरान करते हैं।
पार्टी से ज्यादा मैच का क्रेज
पुरुषों को टीवी पर आने वाले मैच का इतना क्रेज होता है कि उस दौरान वो पार्टी और जॉब तक को दांव पर लगा सकते हैं। इस दौरान अगर महिलाएं उनसे किसी फैमिली फंक्शन में जाने के लिए कहती है तो उनके गुस्से का आप अंदाजा भी नहीं लगा सकतीं खासतौर से जब मैच इंडिया-पाकिस्तान का हो। उनका ये पागलपन उनका दोस्त-यार ही समझ सकता है।
हर वक्त तैयार
पुरुष महिलाओं से ये कहने में हिचकिचाते हैं कि सेक्स के लिए वो हर वक्त तैयार रहते हैं। वो चाहते हैं कि गर्लफ्रेंड और बीवी भी पूरी तरह से इसे एन्जॉय करें। नए-नए एक्सपेरिमेंट्स करना उन्हें बहुत अच्छा लगता है। जिसका डिस्कशन वो पुरुषों के सामने खुलकर करते हैं।
सबको वक्त देना
जहां महिलाएं अपना हर सुख-दुःख पति और ब्वॉयफ्रेंड के साथ बांटना पसंद करती हैं वहीं ज्यादातर पुरुषों के सोने, उठने, खाने और टीवी देखने का रूटीन सेट होता है और इसके अनुसार ही वो अपना हर काम करना पसंद करते हैं। इसमें अलग से खुद के लिए टाइम मांगना पुरुषों का गुस्सा बढ़ाने का काम करता है। उनकी इस भावना को एक पुरुष ही समझ सकता है।
वॉशरूम में डिस्टर्ब करना
दिन में कई बार वॉशरूम का इस्तेमाल करने वाले पुरुष इस बात को महिलाओं से पहले ही क्लियर कर देते हैं कि उन्हें उस दौरान किसी तरह की डिस्टर्बेन्स पसंद नही। लेकिन दूसरी ही ओव वो ये भी अच्छे से जानते हैं कि उनकी ये बात महिलाओं के समझ में नहीं आएगी और वो उन्हें जरूर डिस्टर्ब करेंगी। उनकी इस परेशानी को एक पुरुष ही अच्छी तरह से समझ सकता है।
पड़ोसन ज्यादा अच्छी लगती है
पुरुष हमेशा से ही सुंदरता के कायल रहे हैं। तो अगर आपके आसपास में कोई खूबसूरत महिला रहने आई है तो जाहिर है पुरुषों के मुंह से उनकी तारीफ सुनना। उनके इस नेचर को लेकर बेकार की चिकचिक झिकझिक करने से बचना चाहिए। ब्वॉयज टॉक का ये भी एक इन्ट्रेस्टिंग टॉपिक होता है।
फैमिली को लेकर नो डिस्कशन
पुरुषों को पसंद नहीं होता कोई भी उनके फैमिली को लेकर उल्टी-सीधी बातें करें। महिलाओं का फैमिली के किसी भी मेंबर को लेकर डिस्कशन करना पुरुषों की खीझ बढ़ाने का काम करती है। जिसे वो उनसे बता नहीं पाते और अपना गुस्सा अपने फ्रेंड्स के सामने जाहिर करते हैं।
दैनिक भास्कर
की खबर के अनुसार प्रिंस चॉर्मिंग कॉन्सेप्ट समझ से परेहर वक्त रोमांस करना, सरप्राइज प्लान करना, बर्थडे से लेकर एनिवर्सरी तक के डेट्स याद रखना, ऐसी चीजें सिर्फ फिल्मों और टीवी सीरियल्स तक ही अच्छे लगते हैं। पुरुषों से इस बात की एक्सपेक्टेशन करना भी बेकार है। पूरा पुरुष वर्ग इस बात का सपोर्ट करता है।
आपकी नफरत और उनके प्यार का कनेक्शन
पुरुषों को नहाने, घर साफ रखने, शॉपिंग करने और टीवी देखने में किसी की भी रोक-टोक पसंद नहीं होती। पुरुषों की ये बातें दूसरा पुरुष ही समझ सकता है। इसलिए वो अक्सर अपना ये दुःख अपने दोस्तों से ही शेयर करना पसंद करते हैं।
सबसे सामने प्यार जताना
महिलाएं अगर सोचती हैं कि पुरुष हर वक्त उन्हें आई लव यू और आई मिस यू कहकर प्यार जताते रहें। उन्हें घुटने के बल बैठकर शादी के लिए प्रपोज करें तो ये सब सोचना भी बेकार है क्योंकि पुरुषों के लिए ये सारी चीजें दिखावा हैं और इस बात को उनका पुरुष दोस्त बेहतर तरीके से समझ सकता है।

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे फेसबुक पेज फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story