Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कौन सी टी है आपके लिए फायदेमंद, जानिए व्हाइट, ब्लैक, ग्रीन टी के बारे में

चाय लोगों की जरूरत है। लेकिन कुछ लोग चाय को सिर्फ एक स्वाद के रूप में नहीं पीते हैं। लेकिन टी के फायदे हैं यहां।

कौन सी टी है आपके लिए फायदेमंद, जानिए व्हाइट, ब्लैक, ग्रीन टी के बारे में
नई दिल्ली. आज के दौर में चाय लोगों की जरूरत है। लेकिन कुछ लोग चाय को सिर्फ एक स्वाद के रूप में नहीं पीते हैं। लेकिन कुछ लोग चाय अपने स्वास्थ के फायदे के अनुसार भी पीते है। आज की दुनिया में चाय पीने वोलों की कमी नहीं है। कितने ही लोगों की सुबह तो चाय के गर्मागर्म प्याले के बग़ैर शुरू ही नहीं होती। लेकिन आज हम आपको बता ने जा रहे हैं कि कौन सी टी आपके लिए फायदेमंद होगी जैसे, व्हाइट, ब्लैक, ग्रीन टी आदि।
व्हाइट टी- इसे बनाने के दौरान मशीनों की मदद से चाय की पत्तियों को भाप में पकाने के बाद बहुत कम देर के लिए सुखाया जाता है, सो इसका स्वाद बहुत हल्का होता है। ग्रीन टी की तरह इसका सेवन भी बग़ैर दूध के किया जाता है। पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स होने के कारण यह सेहत के लिहाज़ से बहुत फ़ायदेमंद होती है। जानकारों का कहना है कि व्हाइट टी शरीर का ब्लड सर्कुलेशन सही बनाने और हार्ट को हेल्दी रखने में कारगर है।
ब्लैक टी- घर-घर में नज़र आने वाली यह चाय हमारे देश में बेहद लोकप्रिय है। इसमें भरपूर मात्रा में टैनिन पाया जाता है, जो शरीर और दिमाग़ में एनर्जी लाने, थकान दूर करने और मूड बेहतर बनाने में सहायक है। कई रिसर्च यह भी दावा करते हैं कि रोजाना ब्लैक टी का सेवन फेफड़ों और हार्ट को हेल्दी बनाए रखने में मददगार होता है।
ग्रीन टी- हल्के ज़ायके वाली इस चाय की मांग पिछले कुछ वक़्त में तेज़ी से बढ़ी है। इसे सेहत के लिहाज़ से बहुत गुणकारी माना गया है। भरपूर मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स होने के कारण यह शरीर को मज़बूत बनाने और कैंसर से बचाव करने में भी मददगार है। ग्रीन टी में मौजूद केमिकल ब्रेन का ब्लड सर्कुलेशन सही कर याद्दाश्त बढ़ाने में अहम भूमिका निभाते हैं। इतना ही नहीं, यह चाय शरीर की मसल्स को एक्टिव बनाने और चयापचय दर बढ़ाकर वज़न घटाने में भी हमारी मदद करती है।
उलॉन्ग टी- यह काफ़ी कुछ ब्लैक टी की तरह ही होती है, पर इसे बनाने के दौरान चाय की पत्तियों को मशीनों में ज़्यादा देर तक सुखाया जाता है, इसलिए इसका स्वाद ज़रा कड़क होता है। ब्लैक टी के मुक़ाबले इसमें अधिक मात्रा में टैनिन होता है, इसलिए तुरंत चुस्ती पाने के लिए इसका सेवन कारगर माना गया है।
फ्लेवर्ड टी- किसी भी सामान्य चाय (ब्लैक, वाइट और ग्रीन टी) में तरह-तरह के खाद्य (ऑरेन्ज, कैफीन, दालचीनी, अनार, लौंग, पुदीना आदि) डालकर फ्लेवर्ड टी बनाई जाती है। यानी इसके सेवन से चाय के लाभ पाने के साथ-साथ विभिन्न ज़ायकों का लुत्फ़ भी उठाया जा सकता है।
हर्बल टी- यह चाय सूखे मेवे, तरह-तरह के फूल और जड़ी-बूटियां डालकर बनाई जाती है। इसमें इस्तेमाल की गई विभिन्न औषधियों के अाधार पर डायबिटीज, दिल से जुड़ी बीमारियां, नींद न आना, इनडाइजेशन आदि शिकायतों को दूर करने के लिए अलग-अलग तरह की हर्बल टी उपलब्ध है। इसलिए किसी भी हर्बल टी का सेवन करने से पहले एक्सपर्ट्स की सलाह लें। इस तरह की चाय आपके लिए हमेशा फायदेमंद हो सकती है।

Next Story
Top