logo
Breaking

ऐसे जानें आपको सिरदर्द है या ''माइग्रेन''

माइग्रेन का दर्द असहनीय होता है।

ऐसे जानें आपको सिरदर्द है या
नई दिल्ली. आज की लाइफस्टाइल में सिर में दर्द होना आम बात है। आज के समय में अधिकांश लोग ऐसे हैं जिन्हे कंप्यूटर के सामने बैठकर काम करना पड़ता है। ऐसे में सिर में दर्द होना वाजिफ है। लेकिन अगर सिर दर्द हमेशा ही होते रहता है तो जान लें यह माइग्रेन की भी निशानी हो सकती है। चलिए आपको बताते हैं माइग्रेन और केवल सिर दर्द के बीच अंतर..
- माइग्रेन एक प्रकार का ऐसा सिरदर्द है जो बहुत ही खतरनाक है, आप इसे बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं। माइग्रेन का दर्द असहनीय होता है। लेकिन कई बार सिरदर्द भी बहुत तेज उठता है।
- सिरदर्द और माइग्रेन एक-दूसरे से बिल्कुल अलग होता है। इसलिए दोनों के बीच अंतर जानना बहुत जरूरी है। माइग्रेन का दर्द कंधे से लेकर सिर तक होता है।
- स्‍ट्रेस हेडेक, माइग्रेन हेडेक और साइनस हेडेक के दर्द लगभग सामान होते हैं।
- माइग्रेन का दर्द सिर के आधे हिस्से में होता है। जिसे आधीसीसी का भी दर्द कहते हैं।
- माइग्रेन का दर्द इतना खतरनाक होता है कि ये कुछ घंटों तक लगातार होता है या फिर कुछ दिनों तक दर्द होते रहता है। उसके बाद अचानक से ठीक हो जाता है।
- माइग्रेन की परेशानी है तो यह महीने में एक बार जरूर होगा।
- शुरू में माइग्रेन की फ्रीक्वेंसी कम होती है लेकिन बाद में ही धीर-धीरे बढ़ने लगती है।
- स्‍ट्रेस का हेडेक शाम को अधिक होता है और साइनस का हेडेक सिर के बीचों बीच में अधिक होता है।
- माइग्रेन के दर्द में उल्टियां आती हैं।
- माइग्रेन में आंखों पर दर्द और स्टार लाइट्स दिखने लगते हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top