logo
Breaking

डायबिटीज की इस दवा से घट जाएगा वजन, जानें कैसे

डायबिटीज की एक नई दवा मोटापा कम करने में सहायक साबित हुई है। शोध के अनुसार यह दवा उस कॉम्पोजिट यानी यौगिक की तरह काम करती है, जो भूख को नियंत्रित करने वाले हॉर्मोन के अनुसार सक्रिय होता है।

डायबिटीज की इस दवा से घट जाएगा वजन, जानें कैसे

डायबिटीज की एक नई दवा मोटापा कम करने में सहायक साबित हुई है। शोध के अनुसार यह दवा उस कॉम्पोजिट यानी यौगिक की तरह काम करती है, जो भूख को नियंत्रित करने वाले हॉर्मोन के अनुसार सक्रिय होता है।

शोधकर्ताओं ने बताया कि सेमाग्लूटाइड की रासायनिक संरचना शरीर में इंसुलिन का स्राव करने वाले और भूख को नियंत्रित करने वाले ‘ग्लूकागन लाइक पेप्टाइड-1’ (जीएलपी-1) हॉर्मोन से काफी मिलती जुलती है।

957 लोगों पर शोध

कार्लेस्टन में साउथ कैरोलिना मेडिकल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और शोध के मुख्य लेखक पैट्रिक एम ओ नील ने कहा, ‘वजन कम करने के एक अध्ययन में ऐसे मोटे लोगों को सेमाग्लूटाइड दिया गया, जिन्हें डायबिटीज की शिकायत नहीं थी।

यह भी पढ़ें: सावधान! डायबिटीज होने पर जा सकती है आंखों की रोशनी, जानें कैसे

इस दौरान चमत्कारिक रूप से किसी दवाई की सहायता से पहली बार सबसे ज्यादा वजन कम हुआ।’ शोध के लिए 957 लोगों का चयन किया गया, जिनमें 35 प्रतिशत पुरुष थे।

7 समूहों में बांटा गया

शोध में शामिल लोगों को 7 समूहों में बांटा गया, जिनमें 5 समूहों को अलग-अलग मात्रा में सेमाग्लूटाइड दिया गया। छठे समूह को प्लेसबो और सातवें समूह में प्रति व्यक्ति 3 मिलीग्राम डायबीटीज की दवा लिराग्लूटाइड दी गई।

1 साल बाद सेमाग्लूटाइड लेने वालों का वजन प्लेसबो लेने वालों की तुलना में तेजी से कम हुआ। जिसने सेमाग्लूटाइट की ज्यादा मात्रा ग्रहण की, उनका वजन भी ज्यादा कम हुआ। लिराग्लूटाइड लेने वालों में उनके शरीर का 7.8 प्रतिशत वजन कम हुआ, जबकि प्लेसबो लेने वाले समूह का वजन मात्र 2.3 प्रतिशत कम हुआ।

Share it
Top