Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

रिलायंस के मालिक धीरूभाई अंबानी की कहानी: कभी पत्नी को गिफ्ट की कार, तो कभी सिखाई अंग्रेज़ी

धीरूभाई अंबानी और कोकिलाबेन की लव स्टोरी से जुडें कुछ किस्सें जिससें ये साबित होता हैं कि धीरूभाई एक अच्छे बिजनेसमैन ही नहीं बल्कि एक अच्छे पति भी थे।

रिलायंस के मालिक धीरूभाई अंबानी की कहानी: कभी पत्नी को गिफ्ट की कार, तो कभी सिखाई अंग्रेज़ी
X

आइडल कपल वो होता है जो अपने पार्टनर को घर के कामों के साथ-साथ ऑफिस के कामों में भी साथ रखें! एसें कपल की सबसे बड़ी मिसाल है धीरूभाई अंबानी और कोकिलाबेन आज धीरूभाई का जन्मदिन हैं ! रिलायंस इंडस्ट्रीज को शुरू करने वाले धीरूभाई की 2002 में हार्ट अटैक से मृत्यु हो गई थी!

इनकें जाने के बाद कोकिलाबेन ने मुद्रा वेबसाइट को अपना इंटरव्यू दिया, जिसमें उन्होंने अपनी जिंदगी के अहम पलों को साझा किया यहां आपको धीरूभाई अंबानी और कोकिलाबेन की लव स्टोरी के जुड़े कुछ किस्से , जिससें ये साबित हो जाता है धीरूभाई एक अच्छे बिज़नेसमैन ही नहीं बल्कि एक अच्छे पति भी थे!

इसे भी पढ़े: तीन तलाक पर मौलवियों का नया जुगाड़, अब कानून से ऐसे बचेंगे

1. कोकिलाबेन को धीरूभाई का प्यार जताने का अंदाज़ बहुत पसंद था! कोकिला ने कभी भी जामनगर में कोई गाड़ी या कार नहीं देखी थी उन्होंने बताया कि "मैं चोरवाड़ से अदेन शहर के लिए निकली. वहां पहुंचने से पहले धीरूभाई का फोन आया उन्होंने मुझे कहा कि कोकिला मैंने तुम्हारे लिए एक गाड़ी ली है मैं तुम्हें लेने आ रहा हूँ बताओ गाड़ी का रंग क्या होगा? मैं बता दूं ‘It is black, like me’." कोकिला को प्यार जताने का यही अंदाज़ बहुत पसंद था!

2. कोकिलाबेन ने अपनी पढ़ाई गुजराती स्कूल में की मुम्बई शिफ्ट होने के बाद वहां के माहौल में ढलने के लिए धीरूभाई अंबानी ने कोकिलाबेन को अंग्रेज़ी सिखने को कहा ,एक ट्यूटर घर में बच्चों को पढ़ाने के लिए आता था कोकिलाबेन ने भी उन्हीं से अंग्रेज़ी की शिक्षा ली धीरूभाई के मन में अपनी पत्नि के लिए इज्जत इस कदर थी कि वो अपने सभी नए काम में कोकिलाबेन को शामिल करते थे!

3. कोकिलाबेन ने बताया कि जब भी हम किसी नए शहर में काम के लिए जातें थे तो धीरूभाई मुझे उस शहर की सारी जानकारी निकालने का काम देते ! वो उन्हें अपनें हर काम के शुभारंभ के लिए साथ लेकर जाया करते थे इतना ही नहीं वो हर काम, सभी प्रोजेक्ट कोकिलाबेन से बात करके ही आगे बढातें थे एक ये भी कारण था जों धीरूभाई ने उन्हें अंग्रेज़ी सिखाई! जब भी हम फ्री होते तो धीरूभाई मुझें विदेशी खानों और होटलों के बारे में बताते !

इसे भी पढ़े: साल 2017: नक्सलियों ने इस राज्य में खेला सबसे ज्यादा खूनी खेल, इतने जवान हुए शहीद

4. धीरूभाई ने बहुत ऊंचा मुकाम हासिल किया लेकिन कभी भी घंमड को अपने आड़े नहीं आने दिया कोकिलाबेन ने बताया कि धीरूभाई सिर्फ अपनें दोस्तों के साथ बाहर घूमने के लिए ही नहीं बल्कि मेरे दोस्तों को बुलाने के लिए कहा करते थे जब हमनें नया एयरक्राफ्ट लिया तब भी उन्होंने मेरे दोस्तों को साथ लाने की काफी जिद की!

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story