Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

फूड फेस्टिवल में खींच रही है खुश्बू, शेफ संजीव कपूर ने किया स्ट्रीट साथी ऐप लांच

फेस्ट के पहले दिन शेफ संजीव कपूर ने स्ट्रीट साथी नामक एनरॉयल ऐप लॉन्च किया।

फूड फेस्टिवल में खींच रही है खुश्बू, शेफ संजीव कपूर ने किया स्ट्रीट साथी ऐप लांच
नई दिल्ली. देश भर में ठेले, खोमचे व रेहड़ियों के माध्यम से विभिन्न तरह के व्यंजन (स्ट्रीट फूड) परोसने वालों का मेला राजधानी में बृहस्पतिवार से शुरू हुआ। जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम परिसर में शुरू हुए नेशनल एसोसिएशन ऑफ स्ट्रीट वेंडर्स ऑफ इंडिया (नासवी) द्वारा आयोजित चार दिवसीय नेशनल स्ट्रीट फूड फेस्टिवल के छठे संस्करण का शेफ संजीव कपूर ने उद्घाटन किया।
भारतीय भोजन की कोई भी दास्तान स्ट्रीट फूड के बगैर पूरी नहीं हो सकती, ऐसा कहना है जाने माने सेलिब्रिटी शेफ संजीव कपूर का। कपूर कहते हैं कि भारतीय भोजन के तीन महत्वपूर्ण भाग हैं - घर का खाना, रेस्त्रां का खाना और स्ट्रीट फूड। भारतीय स्ट्रीट फूड देश की प्रकृति को दर्शाता है और यह भारतीय ग्राहकों की निरंतर बदलती जरुरतों को भी दिखाता है चाहे वे साधारण लोग हों या फिर महलों में रहने वाले।
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि एक बच्चे के समान स्ट्रीट फूड का चटखारा लेना ऐसा है जैसे आप बड़ों की निगरानी के बगैर किसी काम का लुत्फ ले रहे हों। स्कूल के दिनों के उन यादगार 10 मिनट के दौरान मैं भी प्राय: बातचीत करने, शरबत और बर्फ के गोलों का मजा लेता था। मैं उन्हें घर पर बनाने की कोशिश करता और पारंपरिक स्ट्रीट फूड को भी बनाने की कोशिश करता। उन्होंने आगे कहा कि भारतीय भोजन की कोई भी दास्तान स्ट्रीट फूड के बगैर पूरी नहीं हो सकती। वहीं स्टेडियम में विभिन्न राज्यों के स्ट्रीट फूड की खूशबू लोगों के कदम स्टॉल तक खींच कर ले जा रही है।
यह महोत्सव रोजाना सुबह 12 बजे से शुरू होकर रात नौ बजे तक चलेगा। इसमें दर्शकों का प्रवेश नि:शुल्क है। इस अवसर पर नासवी के समन्वयक अरविंद सिंह ने कहा कि हर साल इस खाद्य महोत्सव के आयोजन का मुख्य उद्देश्य यह है कि हम समाज के लिए एक सेवा प्रदाता के रूप में स्ट्रीट फूड विक्रेताओं को सशक्त करना चाहते है। फेस्ट के पहले दिन शेफ संजीव कपूर ने स्ट्रीट साथी नामक एनरॉयल ऐप लॉन्च किया। यह नि:शुल्क एनरॉयल ऐप उपयोगकर्ताओं को आस-पास के क्षेत्रों में अपने पसंदीदा स्ट्रीट फूड विक्रेता, पंसदीदा व्यंजन एवं लोकप्रिय खाद्य पदार्थों को खोजने में मदद करता है। इसके जरिए स्ट्रीट वेंडर अपने बारे में जानकारियों को अपलोड कर सकते हैं। इस ऐपरेटस को धीरज अग्रवाल ने किया है जो अपने बचपन के दिनों में स्ट्रीट वेंडर थे।

नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, घर बैठे भी मनपसंद व्यंजन ऑर्डर कर रहे हैं लोग -

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top