Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

OMG! दिन में सोने से कम हो जाती है याददाश्त, जानें वजह

अक्सर ऐसा होता है कि लोगों को जब छुट्टी मिलती है तो वह दिन में आराम करने लगते हैं। कई बार लोग दिन में सो भी जाते हैं। वैसे तो नींद लेने से शरीर को आराम मिलता ही है, लेकिन दिन में सोने से कई नुकसान भी होता है।

OMG! दिन में सोने से कम हो जाती है याददाश्त, जानें वजह

अक्सर ऐसा होता है कि लोगों की जब छुट्टी होती है तो वह दिन में आराम करने लगते हैं। कई बार लोग दिन में सो भी जाते हैं। वैसे तो नींद लेने से शरीर को आराम मिलता ही है, लेकिन दिन में सोने से कई नुकसान भी होते हैं। हाल ही में हुई एक स्टडी में इस बात का खुलासा हुआ है।

शोधकर्ताओं के मुताबिक दिन में सोने से यादें खो जाती हैं और साथ ही किसी न किसी चीज का डर सताने लगता है।

इसके पीछे शोधकर्ताओं ने यह तर्क दिया है कि दिन में सोने से व्यक्ति के दिमाग में ऐसी बातें आने लगती हैं, जिनका हकीकत से कोई वास्ता नहीं होता है। इसी कारण व्यक्ति का दिमाग मनगढ़ंत यादों में उलझने लगता है।

यह भी पढ़ें: सावधान! ज्यादा नमक खाने से हो सकती हैं ये 5 गंभीर समस्याएं

एक घंटे का आराम है घातक

हिन्दुस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक यह रिसर्च लैंकास्टर यूनिवर्सिटी में की गई। इस रिसर्च में यह भी कहा गया कि व्यक्ति द्वारा दिन में ली गई एक घंटा और 45 मिनट की नींद से ही यादों को भूल सकते हैं।

दिन में सोने का सबसे ज्यादा असर दिमाग के दाएं हिस्से में होता है और उस हिस्से की यादें भूल जानी होती हैं।

याददाश्त कम होने का कारण

विशेषज्ञों की मानें तो उन्होंने बताया कि सोने के दौरान दिमाग जो प्रक्रिया करता है, दिन में सोने से वह उसका उल्टा असर कर देता है और यही कारण है कि याददाश्त कमजोर हो जाती है।

दिमाग के दाएं हिस्से में ज्यादातर ऐसी यादें रहती हैं, जो आभासी रहती हैं। वहीं दिन में सोने पर यह हिस्सा सबसे ज्यादा प्रभावित होता है और यही कारण है कि इस हिस्से में इकट्ठा यादें व्यक्ति भूल जाता है।

Next Story
Top