Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Covid Third Wave : Delta Virus की ऐसे करें पहचान, जानें लक्षण और बचाव के उपाय

कोरोना वायरस (Corona Virus) के नए वेरिएंट डेल्टा (Delta) के कुछ राज्यों में मामले बढ़ रहे हैं, यहां लक्षण और बचाव के तरीकों के बारे में बताया जा रहा है।

Covid Third Wave : Delta Virus की ऐसे करें पहचान, जानें लक्षण और  बचाव के उपाय
X

Covid Third Wave : Delta Virus की ऐसे करें पहचान, जानें लक्षण और बचाव के उपाय

Delta Virus : कोरोना वायरस (Corona Virus) के नए वेरिएंट डेल्टा (Delta) के कुछ राज्यों में मामले बढ़ रहे हैं, जिन्हें देखखर कोरोना की थर्ड वेव का खतरा सता रहा है। हालांकि अभी यह सपष्ट नहीं हो सका है कि आने वाले दिनों में महामारी कितनी गंभीर और खतरनाक हो सकती है। लोग कोविड (COVID-19) की दूसरी लहर को लेकर सबक ले चुके हैं। जिन लोगों ने अभी तक वैक्सीनेशन (Vaccination) नहीं कराया है, वो जल्द से जल्द वैक्सीन (Vaccine) लगवा लें, ताकि आपका शरीर कोविड इंफेक्शन (Covid infection) के खतरे से बच सके। यहां आपको डेल्टा (Delta) वेरिएंट से जुड़े लक्षण और बचाव के बारे में बताया जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कोविड स्टडी एप ने यूके में करीब एक मिलीयन से अधिक लोगों से डाटा इकट्ठा किया है, जिसमें पाया गया है कि डेल्टा वेरिएंट (Delta variant) में मतली (Nausea) , सिरदर्द (Headache), पेट में ऐंठन (Abdominal Cramps), तेज बुखार (High Fever), चक्कर आना (Dizziness) और थकान (Fatigue) जैसे लक्षण हो सकते हैं, जिन्हें खारिज नहीं किया जाना चाहिए। congestion और बहती नाक जैसे कुछ लक्षणों को भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए। उन लोगों में जो पहले से ही डेल्टा वेरिएंट को पकड़ चुके हैं, यह भी देखा गया है कि रोग पहले-लक्षण चरण में शुरू हो सकता है, और प्रारंभिक लक्षण ऑरिजनल स्ट्रेन (original strain) से अलग हो सकते हैं।

डेल्टा संक्रमण के सामान्य लक्षण

-बुखार (Fever)

-लगातार खांसी (Persistent cough)

-मायलगिया (Myalgia)

-कमजोरी और थकान (Weakness and fatigue)

-ब्रेन फ़ॉग (Brain fog)

-गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल लक्षण (Gastrointestinal symptoms)

-कान का दर्द (Ear Pain)

-आंखों से पानी बहना (Runny discharge from the eyes)

किन बातों का रखें ध्यान

आप अच्छी तरह जानते हैं कि COVID-19 बहुत तेजी से फैलता है, इसलिए आपको अभी से ही प्रोटोकॉल का पालन करना जरुरी है। जितनी जल्दी हो सके वैक्सीनेशन कराएं और सोशल डिस्टेंशिग और मास्क लगाकर रखें। अगर आप इस तरह के वायरस से संक्रमित हो गए हैं या कोई ऐसा लक्षण नजर आ रहा है तो आप अपने घर में खुद को आइसोलेट (Isolate) कर लें।

Next Story