Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इन लक्षण से पहचानिए कहीं आप ओमिक्रॉन के शिकार तो नहीं...

कोरोना महामारी का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन हर नई डेट के साथ बढ़ता ही जा रहा है। कोरोनवायरस का ओमाइक्रोन वेरिएंट दुनिया भर में कहर बरपा रहा है, साथ ही पूरे भारत में कल तक इसके 4461 मामले सामने आए हैं।

इन लक्षण से पहचानिए कहीं आप ओमिक्रॉन के शिकार तो नहीं...
X

कोरोना महामारी (Corona Virus) का नया वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) हर नई डेट के साथ बढ़ता ही जा रहा है। कोरोन वायरस का ओमाइक्रोन वेरिएंट (Omicron Variant) दुनिया भर में कहर बरपा रहा है, साथ ही पूरे भारत में कल यानी बुधवार तक इसके 4461 मामले सामने आए हैं। ओमिक्रॉन वेरिएंट को वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन (World Health Organisation) ने एक चिंता का विषय माना है। इसके अलाव हेल्थ एक्सपर्ट्स ने भी इस बात को माना है कि आने वाले समय में भारत में ओमिक्रॉन चरम पर होगा।

ओमिक्रॉन के लक्षण

हेल्थ एक्सपर्ट्स ने ओमिक्रॉन के कुछ लक्षण बताएं है, जिनके जरिए हम ओमिक्रॉन का पता लगा सकते हैं। आमतौर पर इसकी शुरुआत शरीर में दर्द, सामान्य कमजोरी, थकान, सिरदर्द और शुरुआती दिनों में बुखार के साथ होती है। इसके साथ ही लोगों को सूखी खांसी भी हो सकती है। इसके अलावा सर्दी होने की भी संभावना होती है, जिसमें नाक से पानी बहता है और छींक भी आती है। लगभग 80 प्रतिशत मामलों में बुखार पहले तीन दिनों में ही चला जाता है। हालांकि अगर ये ज्यादा समय तक रहता है, तो ये इंफेक्शन के गंभीर होने का संकेत है, जिसमें कड़ी निगरानी की आवश्यकता होती है।

लक्षण होनें पर क्या करें

मीडिया रिपोर्ट्स में छपे डॉक्टर्स के बयान के मुताबिक ओमिक्रॉन इंफेक्शन को रोकने के लिए सही समय पर आइसोलेट होना जरूरी है। आप चाहें तो आरटीपीसीआर टेस्ट करवा सकते हैं, इससे आपके मन का संशय भी दूर हो जाएगा। अब क्योंकि ओमिक्रॉन कोरोना के दूसरे वेरिएंट से अधिक संक्रामक है, इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि बहुत सतर्क रहें। केवल ओमिक्रॉन पेशेंट को ही नहीं बल्कि बाहर निकलने वाले हर इंसान को मास्क सही ढंग से लगाने की आवश्यकता है। इसके अलावा जिनमें ये लक्षण दिखाई दे रहे हैं उन्हें एन 95 मास्क पहनना चाहिए, इस मामले में साधारण या सर्जिकल मास्क पर्याप्त नहीं है।

नोट- ये लक्षण एक नॉर्मल सर्दी बुखार के भी हो सकते हैं, तो ऐसे में पैनिक न करें किसी अच्छे डॉक्टर से संपर्क करें और उसके मुताबिक ही कोई दवाई लें।

Next Story