Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

शादी से पहले काउन्सलिंग करना है बहुत जरूरी, जानें क्यों

शादी के बाद अकसर ऐसी स्थितियां बन जाती है।

शादी से पहले काउन्सलिंग करना है बहुत जरूरी, जानें क्यों
X

आज के समय में अधिक से अधिक जोड़े शादी से पहले काउंसलिंग या फिर परामर्श लेने की ओर अग्रसर हो रहे हैं।

दरअसल आज के समय में रिश्तों में स्थिरता खत्म होती जा रही है और रिश्तों में जल्दी तकरार और दरार आने लगी है।

विवाह के बाद पति पत्नी आपस में एक-दूसरे को समझने के बजाय झगड़ने लगते हैं नतीजन, बात अलगाव तक पहुंच जाती है।

ऐसे में जरूरी है कि रिश्तों में अंतरंगता और रिश्तों को लंबे समय तक बनाए रखने के लिए शादी से पहले शादी जैसे महत्वपूर्ण रिश्ते पर परामर्श लिया जाए।

मैरिज काउंसलर प्रोफेशनल एक्सपर्ट होते हैं, जिनसे नए जोड़े और शादी करने वाली जोडि़यां मिलकर अपनी समस्यागओं और शंकाओं का समाधान पा सकती हैं।

अगर आप शादी के बंधन में बंधने के लिए तैयार हैं तो शादी से पहले एक बार काउंसलिंग के लिए जरूर जाएं। क्योंकि इसके अनेक फायदे हैं।

मैरिज काउंसलिंग के फायदे

शादी को लेकर लड़के लड़की दोनों के मन में शारीरिक के अलावा रिश्ते निभाने संबंधी अनेक सवाल होते हैं पर उनका सही जवाब न दोस्तों के पास होता है न परिवार वालों के पास ऐसे में एक ही ऐसा शख्स होता है जो उनकी शंकाओं का समधान कर सकता है।

मैरिज काउंसलिंग का फायदा यह भी होता है कि दोनों पार्टनर जो एक दूसरे से इन विषयों पर बात करने से झिझकते हैं वे एक दूसरे से खुल जाते हैं और दोनों के बीच बेहतर संवाद स्थापित होता है।

शादी के बाद प्रैक्टिकल तौर पर जब आप प्रेमी प्रेमिका से पति पत्नी बन जाते हैं तो घरेलू जिम्मेदारियों को लेकर एक-दूसरे पर गलतियां थोपने से रिश्तों में दरार आ जाती है।

ऐसे में दोनों में से कोई भी एक-दूसरे की जिम्मेदारी उठाने से कतराने लगता है। शादी के बाद अकसर ऐसी स्थितियां बन जाती है।

ऐसे में जिम्मेदारियों को समझने और उन्हें सही तरह से निभाने के लिए मैरिज काउंसलिंग बहुत जरूरी होती है।

शादी करने से पहले जानना जरूरी है कि क्या सचमुच आप एक दूसरे के लिए बने हैं क्या एक इमोशनली, सेक्शुअली, फ़ाइनैंशली के साथ निभा सकते हैं क्या अपने रिश्ते को लेकर आप दोनों की सोच एक जैसी है।

काउन्सलर के पास जाकर इन सवालों के जवाब से आप जान पाएंगे कि क्या सच में आप शादी के लिए तैयार हैं और क्या आप एक दूसरे के साथ निभा सकते हैं।

मैरिज काउंसलर कपल्स की मदद करते हैं ताकि वे वर्तमान के साथ ही अपने भविष्य के बारे में भी प्लानिंग कर सकें। जैसे फॅमिली प्लानिग, ससुराल के रिश्तों के साथ मैनेजमेंट, फ़ाइनैंशियल प्लानिंग क्योंकि एक सफल शादीशुदा रिश्ते के लिए सिर्फ प्यार नहीं प्रैक्टिकल सोच की जरूरत होती है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story