Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कैसे Omicron कर रहा बच्चों पर असर, जानिए क्या हैं इसके लक्षण

वैश्विक महामारी कोरोना (Corona Virus) के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) से पूरा विश्व फिर से सख्ते में आ गया है। वहीं भारत देश में भी ओमिक्रॉन का प्रकोप तेजी से बढ़ता हुआ नजर आ रहा है। तो अब देश के दिल्ली और मुंबई जैसे बड़े शहरों के पेरेंट्स अपने बच्चों की हेल्थ को लेकर के काफी चिंता में हैं, क्योंकि कोविड (Covid) का ये नया वेरिएंट बच्चों के लिए काफी हानिकारक है।

कैसे Omicron कर रहा बच्चों पर असर, जानिए क्या हैं इसके लक्षण
X

वैश्विक महामारी कोरोना (Corona Virus) के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) से पूरा विश्व फिर से सख्ते में आ गया है। वहीं भारत देश में भी ओमिक्रॉन का प्रकोप तेजी से बढ़ता हुआ नजर आ रहा है। तो अब देश के दिल्ली और मुंबई जैसे बड़े शहरों के पेरेंट्स अपने बच्चों की हेल्थ को लेकर के काफी चिंता में हैं, क्योंकि कोविड (Covid) का ये नया वेरिएंट बच्चों के लिए काफी हानिकारक है। देश में अभी तक 15 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए वैक्सीन नहीं उपलब्ध नहीं हैं ऐसे में इस नए वेरिएंट (Omicron in Children) से होनें वाला खतरा हर दिन बढ़ता जा रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक दिल्ली और मुंबई के एक्सपर्ट्स का कहना है कि हालांकि वे बच्चों सहित कोविड रोगियों की बढ़ती संख्या देख रहे हैं, लेकिन अभी तक उनमें केवल हल्के लक्षण ही दिखाई दिए हैं। शालीमार बाग के फोर्टिस अस्पताल, के पल्मोनोलॉजी के एचओडी और डायरेक्टर डॉ. विकास मौर्य का कहना है, "आजकल, हम कई लोगों को बुखार, गले में खराश और खांसी की हिस्टरी के साथ कई लोगों को पॉजिटिव होते हुए देख रहें हैं। वयस्कों और बच्चों दोनों में मामलों की संख्या बढ़ रही है, लेकिन इनमें से अधिकांश में हल्के लक्षण हैं।

क्या हैं कॉमन लक्षण

एक्सपर्ट के मुताबिक बच्चों में बुखार, खांसी, गले में खराश और गले में दर्द जैसे लक्षण सबसे ज्यादा देखने को मिलते हैं। जबकि बच्चों में इस इन्फेक्शन के विकसित होने का खतरा बना रहता है क्योंकि अभी तक उनका वैक्सीनेशन नहीं हुआ है। बच्चों में सामने आए ओमिक्रॉन के कारण बुखार, नाक बहना, गले में दर्द, शरीर में दर्द और सूखी खांसी जैसे लक्षण हैं। बच्चों की सुरक्षा का सबसे अच्छा तरीका है कि कोविड के उचित नियमों का पालन किया जाए। इसके साथ ही बड़ों की जिम्मेदारी है कि वे मास्क पहनें और पूरी कोशिश करें कि इन्फेक्शन घर में न आए।

Next Story