Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कलर थेरेपी - जीवन को बनाएं रंगीन और खुशहाल

रोगों के ट्रीटमेंट मैथड को ही कलर थेरेपी कहते हैं

कलर थेरेपी - जीवन को बनाएं रंगीन और खुशहाल
नेचरोपैथी
रंग हमारे जीवन में उत्साह-उमंग भरते हैं, हमें जीवंत बनाते हैं। निश्चित ही इनका एक मनोवैज्ञानिक महत्व है। इसीलिए हम रंगों का पर्व होली मानते हैं, रंगों से सराबोर होते हैं। ये रंग हमें सिर्फ खुशी ही नहीं देते, बल्कि हमारे कई शारीरिक-मानसिक विकारों को भी दूर करते हैं। असल में ऐसा रंगों की अपनी प्रकृति की वजह से होता है। रंगों के जरिए रोगों के इस ट्रीटमेंट मैथड को ही कलर थेरेपी कहते हैं। आइए जानते हैं, कलर थरेपी कैसे होती है।
हमारे जीवन में रंगों का बहुत महत्व होता है। ये हमारे शरीर और मन के भावों को भी प्रभावित करते हैं। दरअसल, हर रंग की अपनी विशेष प्रकृति होती है, जो हमें गहराई तक प्रभावित करती है। रंगों के इन्हीं गुणों के आधार पर कई रोगों का इलाज कलर थेरेपी में किया जाता है। इस थेरेपी की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि इससे किसी भी उम्र में उपचार कराया जा सकता है। साइड इफेक्ट न होने से यह बेहद सुरक्षित भी मानी जाती है। जानते हैं, क्या है कलर थेरेपी और कैसे किया जाता है इसके जरिए उपचार।
क्या है कलर थेरेपी
मानव शरीर पांच तत्व, वायु, जल, अग्नि, मिट्टी और आकाश से मिलकर बना है। ये पांचों तत्व मिलकर हमारे शरीर में मौजूद वात, पित्त और कफ का संतुलन बनाए रखते हैं। इन तीनों के संतुलित रहने पर ही हम स्वस्थ रहते हैं। लेकिन जब इन तीनों में से कोई भी एक तत्व असंतुलित हो जाता है, तब हम बीमार हो जाते हैं। यानी, यह असंतुलन बीमारी के संकेत होते हैं। इसे ऐसे भी समझा जा सकता है, हमारे शरीर में इंद्रधनुष के सात रंगों की तरह सात चक्र होते हैं। जब शरीर स्वस्थ होता है, तब ये चक्र सुचारु रूप से चलते रहते हैं। लेकिन जब शरीर में वात, पित और कफ में से कोई भी तत्व असंतुलित हो जाता है या कोई विकार हो जाता है, तब हमारे शरीर के ये चक्र प्रभावित हो जाते हैं। कलर थेरेपी के अंतर्गत शरीर के चक्रों में उपजे इन्हीं विकारों की पहले पहचान की जाती है। फिर विभिन्न रंगों के इस्तेमाल से उन्हें दूर किया जाता है।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, कलर थेरेपी की उपचार विधि -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top