Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कॉफी पीने का शौक आपको बना सकता है बहराः रिसर्च

बहुत गर्म कॉफी पीने से आपको कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी भी हो सकती है

कॉफी पीने का शौक आपको बना सकता है बहराः रिसर्च
नई दिल्ली. अगर आप को कॉफी पीने की आदत है तो सावधान हो जाइए। एक रिसर्च में दावा किया गया है कि ज्यादा कॉफी पीना आपको बहरा बना सकता है। कनाडा के मैकगिल यूनिवर्सिटी के द्वारा किए गए रिसर्च के अनुसार, कॉफी के अंदर पाया जाने वाला कैफीन आपके कान की रिकवरी क्षमता को ब्लॉक कर देता है।

मैकगिल ऑडिटरी साइंसेज लैबरेटरी के मेंबर और ईएनटी स्पेशलिस्ट डॉ. फैसल जवावी ने बताया कि कान में जब कोई तेज आवाज या तेज संगीत जाती है, तो सुनने की क्षमता कुछ देर के लिए कमजोर पड़ जाती है, लेकिन 72 घंटे के अंदर कान इसे रिकवर कर लेता है, लेकिन ज्यादा कॉफी पीने की लत से कान की इस रिकवरी क्षमता को हमेशा के लिए नुकसान पहुंचता है।

शोधकर्ताओं ने सूअरों पर किए गए एक प्रयोग के माध्यम से इस प्रभाव के बारे में जानकारी हासिल की। शोध के दौरान उन्होंने सूअरों को दो ग्रुप में बांट दिया। पहले ग्रुप में सूअरों को शोरगुल के वातावरण में बिना कॉफी के रखा गया, जबकि दूसरे ग्रुप में सूअरों को कॉफी देकर शोरगुल के वातावरण में रखा गया। आठ दिनों के बाद रिसर्च टीम ने पाया कि दूसरे ग्रुप में रखे गए सूअरों की सुनने की क्षमता कमजोर पड़ गई है।

यूरोप की फूड सेफ्टी अथॉरिटी ने 2015 में प्रकाशित एक जर्नल में सलाह दी थी कि एक दिन में सभी स्रोतों से 400 मिलीग्राम से ज्यादा कैफीन का सेवन नहीं करना चाहिए। रिपोर्ट में बताया गया है कि वयस्कों के लिए एक बार में 200 मिलीग्राम तक कैफीन का सेवन सुरक्षित है।

लेकिन मैकगिल यूनिवर्सिटी के रिसर्च में सलाह दी गई है कि तेज शोरगुल के वातावरण में रोजाना 25 मिलीग्राम कैफीन का सेवन आपके कानों की सुनने की क्षमता को बुरी तरह से प्रभावित कर सकता है।

कॉफी बन सकता है कैंसर की वजह

हाल ही में आए 'द वर्ज' की एक रिपोर्ट में कहा गया था कि बहुत गर्म कॉफी पीना आपको कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी का शिकार बना सकता है। डब्ल्यूएचओ की कैंसर रिसर्च यूनिट का भी मानना है कि 65 डिग्री सेल्सियस से अधिक गर्म कॉफी पीने से ग्रासनली के कैंसर का खतरा हो सकता है।

हालांकि रिसर्च यूनिट ने कॉफी को कैंसर पैदा करने वाली खाद्य पदार्थो की श्रेणी में नहीं रखा है। रिसर्च यूनिट का कहना है कि किसी भी पेय पदार्थ को 65 डिग्री सेल्सियस से अधिक गर्म कर के पीना कैंसर की एक वजह बन सकती है, लेकिन सामान्य तापमान पर कॉफी पीने से कैंसर का कोई खतरा नहीं होता है।

साभार- टाइम्स ऑफ इंडिया

खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

Next Story
Top