Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

चंद्र ग्रहण के समय गर्भवती महिलाएं भूलकर भी न करें ये काम, जिंदगी हो जाएगी तबाह

चंद्र ग्रहण 2018: चंद्र ग्रहण या सूर्य ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को विशेषरूप से ध्यान रखना चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि ग्रहण की छाया गर्भवती महिला और उसके गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

चंद्र ग्रहण के समय गर्भवती महिलाएं भूलकर भी न करें ये काम, जिंदगी हो जाएगी तबाह

Chandra Grahan (‪‪Lunar eclipse‬)

चंद्र ग्रहण या सूर्य ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को विशेषरूप से ध्यान रखना चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि ग्रहण की छाया गर्भवती महिला और उसके गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए हानिकारक साबित हो सकता है।

ग्रहण की छाया का दुष्प्रभाव गर्भ में पल रहे शिशु पर पड़ने का डर रहता है। इसीलिए गर्भवती महिलाओं को दूसरे लोगों की तुलना में ग्रहण के समय ज्यादा सतर्क रहना पड़ता है। साथ ही वह गर्भवती महिलाओं को ज्यादा नुकसान भी पहुंचाता है।

इसलिए गर्भवती महिलाओं को कुछ खास बातों का ध्यान रखना चाहिए और ग्रहण के समय उनका पालन करना चाहिए। जानिए गर्भवती महिलाएं किन बातों का रखें ध्यान...

गेरू रंग

ऐसा कहा जाता है कि ग्रहण से पहले अगर गर्भवती महिला अपनी साड़ी के पल्लू को गेरू के रंग से रंग ले, तो बच्चे पर ग्रहण का दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है। ऐसा इसलिए क्योंकि आयुर्वेद के अनुसार गेरू में बहुत सारे औषधीय गुण विद्यमान रहते हैं, जो बच्चे को लाभ पहुंचाएंगे।

कुछ न खाएं

ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाएं कोशिश करें कि कुछ भी खाएं-पीएं नहीं। ऐसा माना जाता है कि चंद्र ग्रहण की हानिकारक तरंगों के कारण खाना अशुद्ध हो जाता है। घर में रखे खाने में तुलसी के पत्ते डलें हों तभी खाएं, वह भी ग्रहण खत्म होने के बाद।

यह भी पढ़ें: सावधान! भूलकर भी ना खाएं ये 6 चीजें, वरना कभी नहीं बन पाएंगे पिता

नहाना

ऐसा कहा जाता है कि चंद्रग्रहण के बाद गर्भवती महिलाओं को नहा लेना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि ग्रहण से निकलने वाली तरंगों से वातावरण दूषित होता है और नहाने से आप फ्रेश फील करेंगी।

नारियल

ज्योतिष के मुताबिक जिस समय ग्रहण लगा हो गर्भवती महिलाएं अपने पास एक नारियल रखें। ऐसा करने से ग्रहण की काली छाया बच्चे पर नहीं पड़ेगी।

Next Story
Share it
Top