Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

गर्भावास्था में करेला खाएं या नहीं, जानिए कितना फायदेमंद है ये...

गर्भावास्था के समय महिलाओं को अपनी डाइट का खास ख्याल रखना होता है। ऐसे में क्या कभी आपने सोचा कि प्रेंग्नेंसी में करेला खाना फायदेमंद होता है। इसलिए आज हम गर्भावास्था में करेला खाने का सही तरीका और करेला खाने के फायदे के बारे में बता रहे हैं।

गर्भावास्था में करेला खाएं या नहीं, जानिए कितना फायदेमंद है ये...
गर्भावास्था के समय महिलाओं को अपनी डाइट का खास ख्याल रखना होता है। ऐसे में क्या कभी आपने सोचा कि प्रेंग्नेंसी में करेला खाना फायदेमंद होता है। इसलिए आज हम गर्भावास्था में करेला खाने का सही तरीका और करेला खाने के फायदे के बारे में बता रहे हैं। जिससे आप गर्भावास्था में भी पौष्टिक तत्वों वाले करेले का सेवन करके अपने और बच्चे को स्वस्थ रख सकेगीं।

करेले के जरूरी पौषक तत्व :

सोडियम - 7.5 mg,पोटैशियम - 349.2 mg, कार्बोहाइड्रेट- 3.9 g, डाइटरी फाइबर-1.1g, प्रोटीन - 2.1, शुगर- 0.6g, कैल्शियम - 2%, आयरन -3%,
मैगनीशियम-13%, विटामिन ए- 28%, विटामिन सी- 53%,विटामिन बी-6 - 20%

करेला खाने के फायदे :

करेला खाने के फायदे 1

करेला खाने से शरीर को विटामिन, मिनरल्स, आयरन, नियासिन, पोटेशियम, मैग्नीशियम और मैंगनीज जैसे पौषक तत्व जरूरी मात्रा में मिलते हैं, जिससे भ्रूण का विकास तेजी से हो पाता है और गर्भवती महिला का भी स्वास्थ्य ठीक बना रहता है। साथ ही पाचन तंत्र को भी करेला मजबूत बनाता है।

करेला खाने के फायदे 2

2. गर्भावास्था के दौरान महिलाएं शरीर में पौषक तत्वों की कमी पूरी करने के लिए अक्सर कई सारे सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल करती हैं। ऐसे में फोलेट की कमी को करेले का सेवन करके आसानी से दूर किया जा सकता है। करेले में मौजूद फोलेट तत्व न्यूरल ट्यूब डिफेक्ट को सुरक्षित रखने में मदद करता है।

3.करेला खाने के फायदे 3

करेला में मौजूद पौषक तत्व पेरिस्टालिसिस को बढ़ाकर बॉवेल मूवमेंट को मूवमेंट को कंट्रोल करने में मदद करता है। जिससे गर्भावास्था के दौरान करेला खाने से महिलाएं एसीडिटी, गैस, कब्ज और पेट दर्द जैसी समस्याओं को कम कर सकती हैं।

4. करेला खाने के फायदे 4

करेला खाने से हमारे शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। जिससे शरीर इंफेक्शन और बैक्टीरिया से आसानी से बच पाते हैं। गर्भावास्था के
दौरान महिलाओं का शरीर बेहद नाजुक होता है। जिसमें बैक्टीरिया और इंफेक्शन का खतरा बना रहता है। ऐसे में गर्भावास्था के समय महिलाओं का करेले का सेवन करना बेहद फायदेमंद रहेगा।

करेला खाने के फायेद 5

गर्भावास्था के दौरान महिलाओं को बार-बार भूख लगती है। जिसकी वजह से वो अक्सर जंकफूड या ऑयली फूड खाती हैं, जिससे न चाहते हुए भी मोटापा की बीमारी उन्हें घेर लेती है। ऐसे में अगर गर्भावास्था के दौरान महिलाएं खाने के साथ करेले का सेवन करती है, तो फूड क्रेविंग यानि बार-बार भूख लगने को कंट्रोल कर पाएगीं। साथ ही मोटापे से भी बच पाएगीं।

जानिए करेला खाना क्यों हैं नुकसानदेह

करेला खाने के बहुत सारे फायदे है, लेकिन एक नुकसान भी है। दरअसल, करेले के बीजों में मेमोरचेरिन तत्व पाए जाते हैं, जो गर्भ में बच्चे के विकास के लिए बेहद हानिकारक होते हैं। इसे खाने से अबार्शन यानि गर्भपात की समस्या भी उत्पन्न हो सकती है।

गर्भावास्था के दौरान ऐसे करें करेले का सेवन

अगर आपको करेला खाना पसंद है और गर्भावास्था के वक्त भी खाने का मन करता है, तो ऐसे में आप करेले के बीज निकालकर उसका सेवन कर सकती हैं। इसके अलावा आप करेले का सूप, जूस और सब्जी के रूप में सेवन कर सकती हैं। करेले के सेवन से गर्भ में पल रहे बच्चे का भी इम्यून सिस्टम यानि रोग प्रतिरोधक क्षमता का बेहतर तरीके से विकास होता है।
Next Story
Top