Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज है सेफ, क्रैम्प्स से राहत के लिए अपनाएं ये टिप्स

मासिक धर्म जिसे आमतौर पर माहवारी, रजोधर्म, मेंस्ट्रुअल साइकिल या एमसी और पीरियड्स के नाम से जाना जाता है। यह महिलाओं के जीवन का एक सामान्य हिस्सा है। इस दौरान कुछ महिलाऐं कितनी भी असहज क्यों न हो लेकिन वे डेली रूटीन को जरूर फॉलो करती हैं। वहीं दूसरी तरफ कुछ महिलाऐं पीरियड्स के दौरान काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है।पीरियड्स के समय में दर्द होना, चक्कर आना, मितली आना सामान्य है।

पीरियड्स के दौरान एक्सरसाइज है सेफ, क्रैम्प्स से राहत के लिए अपनाएं ये टिप्स
X

योगा पोस्ट ( instgram photo )

मासिक धर्म (mensuration cycle) जिसे आमतौर पर माहवारी, रजोधर्म, मेंस्ट्रुअल साइकिल या एमसी और पीरियड्स (periods) के नाम से जाना जाता है। यह महिलाओं के जीवन का एक सामान्य हिस्सा है। इस दौरान कुछ महिलाऐं कितनी भी असहज क्यों न हो लेकिन वे डेली रूटीन को जरूर फॉलो करती हैं। वहीं दूसरी तरफ कुछ महिलाऐं पीरियड्स के दौरान काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। पीरियड्स के समय में दर्द होना, चक्कर आना, मितली आना सामान्य है। वे ऐसे समय में एक्सरसाइज (exercise) करने से डरती हैं। लेकिन इस बारे में हेल्थ एक्सपर्ट्स का कुछ और कहना है। तो आइये जानते हैं की पीरियड्स के दौरान क्या एक्सरसाइज करना सेफ है।

वाकिंग

हेल्थ एक्सपर्ट्स की माने तो "पीरियड्स के दौरान आपको कुछ भी करने से खुद को नहीं रोकना चाहिए, यहां तक ​​कि एक्सरसाइज करने से भी नहीं।" कुछ एक्सरसाइज ऐसे हैं जो हम पीरियड्स के दौरान कर सकते हैं। डॉक्टर्स की माने तो इस दौरान चलना और दौड़ना फायदेमंद होता है। ऐसे समय में यह काफी लाभदायक होता है। "शुरुआत के दिनों के लिए हर दिन केवल 30 मिनट पैदल चलना जरुरी है इससे हृदय संबंधी समस्याओं का निवारण होता है।"

रेसिंग

अगर मासिक धर्म में कुछ समस्याएं आ रही है तो व्यायाम करना सबसे सुचारु उपाय है। आप इस अवधि के आखिरी दिनों में स्लो रेस भी कर सकती हैं। यह दर्द और निराशा को कम करके आपको बेहतर महसूस करने में मदद कर सकता है। वहीं दौड़ते हुए आप बार-बार रुकें और खूब पानी पिएं।

योग

वहीं पीरियड्स के दौरान योग करना आपको स्वस्थ रहने में मदद करता है। यह आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। ऐसा करने से आपका तनाव कम होगा। ऐंठन और सूजन जैसी समस्याओं से निजात भी मिलेगा। डांस आपके बॉडी की फ्लेक्सबिलिटी (flexibility) को बढ़ाता है। ऐसे समय में डांस आपके पीरियड्स दर्द से रिलैक्स मिलेगा।

स्ट्रेटिंग

अगर आप कोई और व्यायाम करने में असमर्थ हैं तो आप स्ट्रेटिंग को अपना सकते है। इससे आपके मसल्स मजबूत बनेंगी और बॉडी में खिंचाव बना रहेगा। ऐसा करने से आपके शरीर को फुर्ती मिलती है। इससे शरीर रिलेक्स महसूस करता है।

स्विमिंग

ऐसे समय में जब आपका फ्लो थोड़ा धीमा पड़ जाता है तब आप स्विम कर सकती हैं। यह पीरियड्स के दौरान बेस्ट एक्सरसाइज है। इससे आपके शरीर की मसल्स रिलैक्स रहती हैं।

Next Story