logo
Breaking

जानिए क्यों दिल के लिए फायदेमंद है सरसों का तेल

सरसों के तेल मे आवश्यक वसा अम्ल और प्राकृतिक एंटीऑक्सिडेंट्स के आदर्श अनुपात वाला सरसों का तेल स्वास्थ्यवर्धक खाद्य तेलों में से एक है

जानिए क्यों दिल के लिए फायदेमंद है सरसों का तेल

हर घर की रसोई में आसानी से मिलने वाला सरसों का तेल बहुत ही लाभदायक है, सरसों के तेल मे आवश्यक वसा अम्ल और प्राकृतिक एंटीऑक्सिडेंट्स के आदर्श अनुपात वाला सरसों का तेल स्वास्थ्यवर्धक खाद्य तेलों में से एक है, जो दिल के लिए बेहद लाभकारी हो सकता है।

सरसों का तेल सेहत और सुंदरता दोनों के ही लिए बहुत फायदेमंद है। सरसों के तेल में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो दर्दनाशक का काम भी काम करते हैं। जोड़ों का दर्द हो या फिर कान का दर्द, सरसों का तेल एक औषधि की तरह काम करता है।

1-दिल के लिए है फायदेमंद

विशेषज्ञों ने कहा कि सरसों का तेल शरीर में ट्राइग्लीसराइड्स (रक्त में पाया जाने वाला वसा) को कम कर हृदय को स्वस्थ रखता है।

2. दर्दनाशक के रूप में

जोड़ों के दर्द में सरसों के तेल की मालिश करना बहुत फायदेमंद होता है. इसके अलावा सरसों के तेल के सेवन से अंदरुनी दर्द में भी आराम मिलता है।

3. त्वचा के लिए फायदेमंद

सरसों का तेल त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है. इसमें विटामिन ई की पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है. इसके सेवन से त्वचा को अंदरुनी पोषण तो मिलता है ही साथ ही इसे चेहरे पर लगाने से त्वचा की नमी भी बनी रहती है।

4. भूख बढ़ाने में मददगार

अगर आपको भूख नहीं लगती है और इसके चलते आपका स्वास्थ्य प्रभावित हो रहा है तो सरसों का तेल आपके लिए खासतौर पर फायदेमंद रहेगा. ये तेल हमारे पेट में ऐपिटाइजर के रूप में काम करता है जिससे भूख बढ़ती है।

5. वजन घटाने में मददगार

सरसों के तेल में मौजूद विटामिन जैसे थियामाइन, फोलेट व नियासिन शरीर के मेटाबाल्जिम को बढ़ाते हैं जिससे वजन घटाने में मदद मिलती है।

6. अस्थमा की रोकथाम

अस्थमा से पीड़ि‍त लोगों के लिए सरसों का तेल खासतौर पर फायदेमंद होता है. सरसों में पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम पाया जाता है, जो अस्थमा के मरीजों के लिए खासतौर पर फायदेमंद है. सर्दी हो जाने पर भी इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

7. दांत दर्द में फायदेमंद

अगर आपके दांतों में दर्द है तो सरसों के तेल में नमक मिलाकर मसूड़ों पर हल्की मालिश करें. ऐसा करने से दांतों का दर्द दूर हो जाएगा और दांत भी मजबूत बनेंगे.

8. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए

सरसों का तेल शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने का काम करता है. शरीर की अंदरुनी कमजोरी को दूर करने के लिए सरसों के तेल का नियमित सेवन करें. इससे मालिश करना भी फायदेमंद रहेगा।

Share it
Top