Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मीठे स्वाद और सुगंध के साथ जानिए इलायची के 8 फायदे

मीठी और ठंडी होने के कारण यह पित्त के असंतुलन में लाभकारी है।

मीठे स्वाद और सुगंध के साथ जानिए इलायची के 8 फायदे
नई दिल्ली. हल्के हरे रंग की दिखने वाली और ऊपर से खुरदरी सतह वाली इलायची प्राकृतिक रूप से हल्का होती है। ऊपर से खुरदरी सकह होने के साथ-साथ स्वाद में यह मीठा और कड़वा दोनों होता है लेकिन खाने के बाद इसका मीठा स्वाद ही मुंह में आता है। इसके साथ ही यह कई तरह की बीमारियों के उपचार में लाभकारी है।
मीठी और ठंडी होने के कारण यह पित्त के असंतुलन में लाभकारी है। गर्मी के मौसम में शरीर में किसी भी प्रकार के जलन को रोकने के लिए इसका सेवन किया जा सकता है। यह किसी भी प्रकार के जलन में लाभकारी है चाहे वह आँखों की हो या पेशाब में हो।
बदहजमी से बचने के लिए 2 से 3 इलायची, अदरक का एक छोटा सा टुकड़ा, कुछ लौंग और धनिया के कुछ बीज लें। इन्हें अच्छी तरह से पीसकर गर्म पानी के साथ खाएं। अपच, सूजन और गैस के लिए यह एक जल्द राहत पहुंचाने वाला रामबाण है। यदि छोटे बच्चों को पेट से जुड़ी समस्या हो रही हो तो उन्हें शहद के साथ इलायची को पीसकर दें इससे तुरंत आराम मिलता है।
डॉक्टर की माने तो वह हमेशा इलायची पाउडर का लगभग एक या आधा ग्राम ही लेने की सलाह दी जाती है। जिसे आप दूध या पानी के साथ दिन में दो बार ले सकते है। कभी-कभी जब लगातार उल्टी हो रही हो तो एक या दो इलाचयी को चबाकर इसके रस को धीरे-धीरे निगलने पर इस तरह की परेशानी से भी निबटा जा सकता है। पुदीने की पत्तियों के साथ इलाचयी को पीसकर इसका काढ़ा भी तैयार किया जाता है। इसके अलावा पेट से संबंधित सभी बिमारियों को जड़ से मिटाने में भी इलायची किसी रामबाम से कम नहीं है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top